अफ़ग़ानिस्तान में सरकार को लेकर समझौता

अब्दुल्लाह अब्दुल्लाह इमेज कॉपीरइट Reuters

अफ़ग़ानिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव के तीन महीने बाद दोनों उम्मीदवारों ने सरकार बनाने को लेकर समझौता कर लिया है.

राष्ट्रपति पद के दावेदार अब्दुल्लाह अब्दुल्लाह के प्रवक्ता ने बीबीसी को बताया कि वे अपने प्रतिद्वंदी अशरफ़ ग़नी को राष्ट्रपति बनाए जाने पर राज़ी हो गए हैं.

बदले में अब्दुल्लाह अब्दुल्लाह मुख्य कार्यकारी अधिकारी को नामित करेंगे जिसके पास प्रधानमंत्री के बराबर अधिकार होंगे.

हालांकि अभी इसे लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है कि रविवार को नतीजों के ऐलान के साथ ही सत्ता समझौते की घोषणा की जाए या नहीं.

अफ़ग़ानिस्तान में तीन महीने पहले हुए राष्ट्रपति चुनावों के बाद मतों की गिनती को लेकर विवाद हो गया था.

प्रमुख उम्मीदवारों अब्दुल्लाह अब्दुल्लाह और अशरफ़ ग़नी एक दूसरे पर धांधली के आरोप लगाते रहे हैं.

अप्रैल में पहले दौर की मतगणना में अब्दुल्लाह अब्दुल्लाह आगे थे, पर उन्हें बहुमत नहीं मिला था.

जून में दूसरे दौर के बाद शुरुआती नतीजों में अशरफ़ ग़नी आगे निकल गए.

मतदान में 80 लाख मत पड़े थे.

संयुक्त राष्ट्र की निगरानी में मतों की दोबारा गिनती से पहले अब्दुल्लाह ने अपने पर्यवेक्षक हटा लिए थे.

दोनों उम्मीदवार एकीकृत सरकार के गठन पर राज़ी हो गए थे पर इसे लेकर समझौता अब हुआ है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार