नवाज़ शरीफ़ ने यूएन में उठाया कश्मीर मुद्दा

नवाज़ शरीफ़ इमेज कॉपीरइट Getty

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में जम्मू कश्मीर का मुद्दा उठाया है.

उन्होंने कहा, "छह दशक से भी ज़्यादा हो गए, जब संयुक्त राष्ट्र ने कश्मीर में जनमत संग्रह कराने का प्रस्ताव पारित किया था. वहां के लोग अब भी इस वादे के पूरा होने का इंतज़ार कर रहे हैं."

उन्होंने कहा कि "कश्मीर की कई पीढ़ियां क़ब्जे में रही हैं, उन्हें हिंसा का भी सामना करना पड़ा है और उनके बुनियादी मानवाधिकारों का हनन हुआ है."

उनका इशारा भारत प्रशासित कश्मीर की तरफ़ था जहां भारी संख्या में भारतीय सेना तैनात है.

पाकिस्तान कश्मीर के मुद्दे को अकसर अंतरराष्ट्रीय मंचों पर उठाया रहा है जबकि भारत इसे दोनों देशों का मुद्दा मानता है.

भारत ने हाल में पाकिस्तान के साथ विदेश सचिव स्तर की वार्ता को उस समय रद्द कर दिया था जब दिल्ली में पाकिस्तानी उच्चायुक्त ने हुर्रियत नेताओं से मुलाकात की थी.

नवाज़ शरीफ़ ने कहा है कि वो भारत और पाकिस्तान के बीच विदेश सचिव स्तरीय बातचीत के रद्द होने से निराश हैं.

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान सभी मुद्दों को सुलझाने और आर्थिक व व्यापारिक रिश्ते कायम करने के लिए बातचीत को जारी रखने में विश्वास रखता है.

अब भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार