जापान: 30 लोगों के मरने की आशंका

माउंट ओंटेक ज्वालामुखी फटने के बाद सुरक्षित स्थान की तरफ़ जाते लोग इमेज कॉपीरइट Reuters

जापान में शनिवार को अचानक से माउंट ओंटेक ज्वालामुखी के सक्रिय होने के बाद बचाव अभियान में लगे दल को इसकी चोटी के समीप अचेत अवस्था में 30 यात्री मिले हैं.

ख़बरों के मुताबिक़ यात्री सांस नहीं ले पा रहे थे और उनके दिल ने भी धड़कना बंद कर दिया था.

लेकिन जापान में डॉक्टरी जांच पूरी होने के बाद ही लोगों को मृत घोषित किया जाता है.

इस ज्वालामुखी की ढलान पर उस समय क़रीब 250 लोग फंसे थे, लेकिन उनमें से अधिकांश सुरक्षित उतरने में कामयाब रहे.

अचानक सक्रिय हुआ ज्वालामुखी

शनिवार की दोपहर में टोक्यो से 200 किलोमीटर दूर स्थित माउंट ओंटेक ज्वालामुखी के सक्रिय होने के बाद तेज़ी से राख और चट्टानें बाहर निकलने लगी.

रविवार को तलाशी अभियान में तेज़ी आने के बाद हेलिकॉप्टर से सात लोगों को सुरक्षित निकाला गया.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption माउंट ओंटेक की गिनती घूमने के लिए चर्चित जगहों में होती है

बीबीसी के रूपर्ट विंगफ़ील्ड हैव्स ने कहा कि अभी यह साफ़ नहीं है कि शनिवार को ज्वालामुखी विस्फोट की कोई चेतावनी क्यों नहीं दी गई.

जापान में ज्वालामुखी की क़रीब से निगरानी की जाती है और इसके सक्रिय होने का संकेत मिलने पर यात्रियों को आगाह किया जाता है, लेकिन इस बार ऐसा नहीं किया गया.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार