हांगकांग: फिर जुटने लगे हैं प्रदर्शनकारी

हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारी एक बार फिर सरकारी इमारतों के बाहर जुटने लगे हैं. इससे पहले पुलिस की कार्रवाई के चलते ये प्रदर्शनकारी तितर-बितर हो गए थे.

लेकिन प्रदर्शनकारी छात्र सरकारी इमारतों के मुख्य प्रवेश द्वारों को बंद करने के पक्ष में नहीं हैं और उनका कहना है कि सरकारी कर्मचारियों को काम करने से रोकना ठीक नहीं है.

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि यदि उन पर हुए हमले की जांच की जाती और उन्हें ज़बरन प्रदर्शन स्थल से हटाया न जाता तो वे सरकार की ओर से आई बातचीत की पेशकश को स्वीकार कर सकते थे.

हांगकांग के नेताओं का कहना है कि सरकारी दफ़्तर और स्कूल सोमवार को खुल जाएंगे.

चुनावी योजना से विरोध

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption इससे पहले प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने तितर-बितर कर दिया था

प्रदर्शनकारी हांगकांग में साल 2017 में चुनाव कराने की चीन की योजना को लेकर ग़ुस्से में हैं.

इनकी मांग है कि चीन की केंद्रीय सरकार हांगकांग के लोगों को अपना नेता चुनने की आज़ादी दे.

हांगकांग के मुख्य कार्यकारी सीवाई लेंग प्रदर्शनकारियों से प्रदर्शन ख़त्म करने की अपील कर चुके हैं और चेतावनी भी दी है कि क़ानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस अपने तरीके से काम करेगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार