'वेश्यालय गए तो सरकारी टीवी से दूर रहें'

जेसी चेन इमेज कॉपीरइट REUTERS

चीन में मीडिया पर नज़र रखने वाली संस्था का कहना है कि ड्रग्स इस्तेमाल करने वाले या वेश्याओं के पास जाने वाले फिल्मी और टीवी सितारों को सरकारी चैनल और अन्य मीडिया में प्रतिबंधित किया जाएगा.

चाइना डेली की रिपोर्ट के मुताबिक ये प्रतिबंध फ़िल्म इंडस्ट्री को ठीक रखने के लिए लगाया जा रहा है.

चीन में प्रेस, पब्लिकेशन, रेडियो, फ़िल्म और टेलीविज़न की प्रबंधन संस्था ने एक बयान में कहा है कि हालिया मामलों से युवाओं पर ग़लत असर पड़ रहा है.

इस साल कई सितारों को ड्रग संबंधित अपराधों के लिए गिरफ़्तार किया गया है. उनमें जैकी चैन के बेटे भी शामिल हैं.

चीन की सरकार का कहना है कि क़ानूनों का उल्लंघन करने वाले सितारों को कार्यक्रमों में नहीं बुलाया जाएगा और उनके काम का प्रदर्शन भी नहीं किया जाएगा.

इस प्रतिबंध के दायरे में ऑनलाइन मीडिया और फ़िल्म और टीवी उद्योग भी आएगा.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption रिहा होने के बाद काई को ने एक सार्वजनिक बयान जारी कर माफ़ी मांगी थी.

अगस्त में जेसी चैन और उनके ताइवानी सह-कलाकार काई को ड्रग लेने के आरोप में हिरासत में लिया गया था. चैन के घर से सौ ग्राम से ज़्यादा नशीली दवा बरामद भी की गई थी.

अगस्त में ही एक अन्य स्टार गाओ हो को भी ड्रग रखने के आरोपों में गिरफ़्तार किया गया था.

इमेज कॉपीरइट
Image caption जैकी चेन को भी अपने बेटे की गिरफ़्तारी के बाद माफ़ी मांगनी पड़ी थी.

फ़िल्म निर्देशक वान क्वानान और अभिनेता हुआंग हाइबो को भी वेश्याओं की सेवाएँ लेने के शक़ में गिरफ़्तार किया गया था.

सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक नियामक संस्था के बयान के जारी होने के बाद से हुआंग और गाओ के अभिनय वाले कार्यक्रमों के प्रसारण पर रोक लगा दी गई है.

चाइना रेडियो और टेलीविज़न एसोसिएशन की ओर से जारी एक बयान में उनकी आलोचना करते हुए कहा गया है कि उनके कृत्यों से समूची इंडस्ट्री को दुख पहुँचा है और समाज पर बेहद ग़लत प्रभाव पड़ा है.

बीजिंग में मौजूद बीबीसी संवाददाता मार्टिन पेशेंस के मुताबिक इन सभी मामलों की चीनी सोशल मीडिया पर ज़बरदस्त चर्चा की गई है.

ताज़ा कार्रवाई को सरकार की व्यापक कार्रवाई के ही हिस्से के रूप में देखा जा सकता है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption प्रतिबंध के बाद से गाओ हू जैसे सितारों के कार्यक्रमों के प्रसारण पर रोक लगा दी गई है.

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने 2012 में कार्यभार संभालने के बाद से ही भ्रष्टाचार के विरोध में भी व्यापक अभियान चलाया है.

इसी साल फ़रवरी में नागरिक सुरक्षा मंत्रालय ने पुलिस से ड्रग्स, जुआघरों और वेश्यावृत्ति के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई करने के लिए कहा था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार