जर्मनीः यूएन कर्मचारी की इबोला से मौत

जर्मनी में इबोला इमेज कॉपीरइट AFP

जर्मनी में ख़तरनाक इबोला का इलाज करवा रहे संयुक्त राष्ट्र के एक कर्मचारी की मौत हो गई है.

सूडान के इस व्यक्ति को लाइबेरिया से पिछले हफ्ते ही इलाज के लिए जर्मनी लाया गया था.

सेंट जॉर्ज अस्पताल के अधिकारियों ने बताया कि 'गहन चिकित्सा' के बावजूद मरीज की मौत हो गई.

अस्पताल के अनुसार 55 वर्षीय यूएन कर्मचारी की इबोला वायरस से मौत रातोंरात ही हो गई. फ़िलहाल इनका नाम सामने नहीं आया है.

जर्मनी में इबोला वायरस से संक्रमित जिन तीन मरीजों का इलाज चल रहा है, उनमें वे एक थे.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption डब्लूएचओ के मुताबिक 8 अक्तूबर तक के आंकड़े

इबोला के अब तक 8300 से ज़्यादा पुष्ट और संदिग्ध मामले सामने आ चुके हैं.

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) के मुताबिक़ जानलेवा इबोला वायरस के संक्रमण से पश्चिम अफ़्रीका में 8 अक्तूबर तक 4032 लोगों की मौत हो चुकी थीं.

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption जर्मनी का अस्पताल जहां सूडानी मरीज़ की मौत हुई.

पश्चिम अफ्रीकी देश लाइबेरिया, सियेरा लियोन और गिनी में इबोला के सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं और अब तक मरने वालों की कुल संख्या लगभग 4500 हो गई है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार