इबोला पर हम पीछे नहींः संयुक्त राष्ट्र

इोबाल से बचाव इमेज कॉपीरइट AP

संयुक्त राष्ट्र के एक वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी ने इबोला वायरस की रोकथाम की अंतरराष्ट्रीय कोशिशों का बचाव किया है.

संयुक्त राष्ट्र में इबोला के समन्वयक डेविड नबैरो ने बीबीसी को बताया कि अगले महीने तक इबोला वायरस के मरीज़ों को 4000 बिस्तर मुहैया कराने की योजना है.

उन्होंने कहा कि अगस्त के आख़िर तक मात्र 300 बेड की व्यवस्था थी.

उनकी यह टिप्पणी विश्व स्वास्थ्य संगठन की उस आंतरिक रिपोर्ट की बाद आई है, जिसमें कहा गया था कि संयुक्त राष्ट्र ने इबोला वायरस की रोकथाम करने का मौका गंवा दिया.

इमेज कॉपीरइट

इस रिपोर्ट में पश्चिम अफ्रीका में इबोला का फैलाव रोकने के लिए संयुक्त राष्ट्र पर मुस्तैदी से न काम करने का आरोप लगाया गया है.

इबोला से निपटने में 'पिछड़े'

जिनेवा में मौजूद बीबीसी संवाददाता ने कहा कि इस तरह के आरोप कोई नई बात नहीं पर ये दस्तावेज़ संस्था में सूचना के आदान-प्रदान की कमी को ज़रूर प्रकाश में लाता है.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption इबोला वायरस का संक्रमण अब शहरों से गांवों में फैल रहा है.

उन्होंने कहा कि इबोला वायरस अब गांवों से निकलकर शहरों में फैल रहा है.

इस बीच विश्व बैंक के प्रमुख जिम योंग किम का कहना है कि दुनिया इबोला वायरस निपटने में पिछड़ रही है क्योंकि वो इसका मुकाबला एक साथ नहीं कर रही.

इस महामारी से 4500 से भी ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और लोगों के संक्रमित होने के मामले बढ़ रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार