इस्लामिक स्टेट को आर्थिक मदद नहीं दी: क़तर

इस्लामिक स्टेट, सीरिया इमेज कॉपीरइट AP

क़तर ने सीरिया में इस्लामिक स्टेट जैसे चरमपंथी संगठनों को आर्थिक मदद देने से इनकार किया है.

क़तर के वरिष्ठ अधिकारियों ने बीबीसी से कहा कि क़तर ने केवल उदारवादी चरमपंथियों को मदद मुहैया कराई है और वो भी अमरीकी खुफ़िया एजेंसी सीआईए, पश्चिमी और अरब देशों की खुफ़िया एजेंसियों के सहयोग से.

अधिकारियों ने कहा कि क़तर में कठोर वित्तीय नियंत्रण लागू किए गए हैं.

अधिकारियों की तरफ़ से यह बयान क़तर के शासक शेख़ तमीम बिन हमाद अल थानी के ब्रिटेन दौरे से पहले आया है.

क़तर से नजदीकी पर सवाल

इस महीने की शुरुआत में कई ब्रितानी सांसदों ने क़तर से ब्रिटेन की नजदीकी को लेकर सवाल उठाए थे.

क़तर के बारे में दावे किए जा रहे थे कि वह इस्लामिक स्टेट के चरमपंथियों को आर्थिक मदद दे रहा है.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption क़तर के शासक शेख़ तमीम बिन हमाद अल थानी ब्रिटेन के दौरे पर जाने वाले हैं.

बीबीसी के सुरक्षा संवाददाता फ़्रैंक गार्डनर कहते हैं कि ब्रिटेन के प्रमुख निवेशकों में से एक क़तर इन आरोपों से ख़फ़ा है.

वहीं क़तर के ख़ुफिया विभाग के निदेशक समेत अन्य अधिकारियों ने बीबीसी को बताया कि सीरिया में असद सरकार के ख़िलाफ़ लड़ने वाले समूहों के समर्थन देने के मसले पर उसके पास छिपाने के लिए कुछ नहीं है.

क़तर सितंबर से सीरिया में इस्लामिक स्टेट के ख़िलाफ़ अमरीकी नेतृत्व में कार्रवाई का समर्थन कर रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार