आईएस के चंगुल से भागे 230 लोग

इमेज कॉपीरइट AP

इस्लामिक स्टेट के चरमपंथियों ने यज़ीदी समुदाय के जिन लोगों का अपहरण कर रखा है, उनमें से 230 से ज़्यादा रिहा हो गए हैं.

इराक़ की क्षेत्रीय कुर्द सरकार के एक प्रवक्ता ने बीबीसी को ये जानकारी दी है.

प्रवक्ता नूरी उस्मान ने कहा कि लगभग 154 महिलाएं और 80 पुरुष आईएस के चंगुल से बच कर भागने में कामयाब रहे जबकि अन्य लोगों के लिए या तो कुर्द बलों ने फिरौती दी या फिर उन्हें बचाया गया है.

उन्होंने बताया कि इनमें से ज़्यादातर लोग सुरक्षित अपने घरों को लौट आए हैं.

मानवाधिकार संगठनों का कहना है कि आईएस के लड़ाके बंधक बनाई गई यज़ीदी महिलाओं का उत्पीड़न और यौन शोषण करते हैं.

'पांच दिन में 500 हत्या'

इमेज कॉपीरइट AFP

उस्मान ने बताया कि क्षेत्रीय सरकार को इस बात की जानकारी नहीं है कि आईएस ने अभी कितने यज़ीदी लोगों को बंधक बनाया हुआ है.

इस बीच इराक़ में एक सुन्नी क़बीले के नेता का कहना है कि पिछले पांच दिनों में इस्लामिक स्टेट चरमपंथियों ने अनबार प्रांत में 500 से ज़्यादा लोगों को जान से मार दिया है.

हालांकि इस आंकड़े की स्वतंत्र रूप से पुष्टि नहीं हो पाई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित समाचार