जियोनी मैराथन एम3: 32 दिन की बैटरी!

मोबाइल इमेज कॉपीरइट AFP

इस फ़ोन का बैटरी बैक-अप कितना है? स्मार्टफोन ख़रीदते समय तो ये सवाल और भी लाजिमी हो जाता है.

शायद यही वजह थी कि जियोनी ने अब तक की सबसे दमदार बैटरी वाला स्मार्टफोन बाज़ार में उतारने का दावा किया है और इसका नाम दिया है जियोनी मैराथन एम 3.

कंपनी ने फोन में 5000 एमएएच क्षमता की बैटरी लगाने की बात कही गई है. कंपनी का दावा है कि 3जी फ़ोन में यह बैटरी 32 घंटे से अधिक समय तक चलेगी. और अगर फोन स्टैंडबाई मोड में है तो फोन लगभग 32 दिनों तक चालू रहेगा.

एक और ख़ास बात है कि इस बैटरी को मोबाइल से अलग नहीं किया जा सकेगा.

सोशल मीडिया पर चर्चा

बीबीसी ने जियोनी मैराथन एम-3 का रिव्यू नहीं किया है, लेकिन सोशल मीडिया पर इस फोन की चर्चा ज़ोर-शोर से है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

पत्रिका 'माई मोबाइल' के सह संपादक निमिष दुबे 5000 एमएएच बैटरी क्षमता को 'क्रांतिकारी' तो नहीं मानते हैं, लेकिन उनका कहना है कि स्मार्टफोन के मामले में यह बेहद अहम हो सकता है.

दुबे कहते हैं, "पिछले एक-दो साल से लोगों को बैटरी घटने की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था और इसकी वजह थी कि फोन लगातार पतले हो रहे थे."

कंपनी के दावे पर दुबे ने कहा, "5000 एमएएच क्षमता का मतलब आईफोन 6 प्लस में जो बैटरी होती है, यह लगभग उसका दोगुना है. इस लिहाज से इसे दमदार बैटरी कहा जा सकता है."

फीचर्स

ड्यूल-सिम सपोर्ट करने वाला जियोनी मैराथन एम 3 ऐंड्रॉयड 4.4 पर चलता है. इसमें 1280x720 पिक्सल रेजॉल्यूशन वाला 5 इंच का एचडी आईपीएस वन ग्लास सॉल्यूशन डिस्प्ले है.

इमेज कॉपीरइट REUTERS
Image caption 2जी के मुक़ाबले 3जी नेटवर्क के इस्तेमाल में बैटरी की खपत ज़्यादा होती है

जियोनी मैराथन एम 3 में पीछे की तरफ एलईडी फ्लैश के साथ 8 मेगापिक्सल कैमरा है और 2 मेगा पिक्सल का फ्रंट कैमरा है.

8 जीबी इंटरनल स्टोरेज है और 128 जीबी तक माइक्रो-एसडी कार्ड लगाया जा सकता है.

पहली बार किसी कंपनी ने 5000 एमएएच क्षमता की बैटरी मोबाइल में फिट की है. कभी तक कई कंपनियां 4000 एमएएच बैटरी के साथ मोबाइल बेच रही हैं.

आनेवाले समय में 4जी नेटवर्क इस्तेमाल करने पर बैटरी का पहलू कितना अहम होगा, इस पर निमिष दूबे कहते हैं, "2जी और 3जी की बैटरी ख़पत में जो फ़ासला है, वह 3जी और 4जी में कम होगा. हाँ, निश्चित तौर पर 4जी नेटवर्क में बैटरी की खपत ज़्यादा तो होगी ही."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार