येरूशलम: कार हमला, पुलिस अधिकारी की मौत

इमेज कॉपीरइट Reuters

येरूशलम में बुधवार को एक फ़लस्तीनी कार ड्राइवर ने पैदल यात्रियों पर कार चढ़ा दी.

पुलिस प्रवक्ता मिकी रोज़ेनफ़िल्ड के मुताबिक़ इस हादसे में पुलिस चीफ़ इंस्पेक्टर ज़िदान असद की मौत हो गई और 13 अन्य घायल हो गए.

यह घटना शहर के सबसे पवित्र स्थल पर हुई झड़पों के कुछ घंटे बाद हुई.

जॉर्डन ने येरूशलम में पवित्र स्थलों पर बढ़ती अभूतपूर्व हिंसा का हवाला देते हुए, विरोध में इसराइल से अपने राजदूत को वापस बुला लिया है.

हमास ने ली ज़िम्मेदारी

पुलिस ने कार ड्राइवर इब्राहिम अल अकारी को गोली मार दी. वो शहर के पूर्व में बने शुफात शरणार्थी शिविर में रह रहे थे.

इमेज कॉपीरइट
Image caption कार चालक इब्राहिम अल अकारी को पुलिस ने गोली मार दी

हादसे की ज़िम्मेदारी हमास ने ली है. हमास के हथियारबंद दस्ते अल क़स्साम ने अपने ट्विटर एकाउंट पर इब्राहिम को अपना सदस्य बताते हुए उन्हें 'शहीद' बताया है.

वहीं इसराइल ने घटना को फ़लस्तीनी प्राधिकरण और हमास के प्रोत्साहन का परिणाम बताया है.

फ़लस्तीनियों ने इसी तरह का एक हमला दो हफ़्ते पहले भी किया था. इसमें एक महिला और एक बच्चे की मौत हो गई थी.

वहीं बुधवार को एक फ़लस्तीनी वाहन चालक वेस्ट बैंक में अपनी गाड़ी के साथ सैनिकों के एक समूह में घुस गया था. इसमें तीन सैनिक घायल हो गए थे.

अल-हरम-अल-शरीफ़ परिसर में स्थित अल अक़्सा मस्जिद में प्रवेश पर अभी हाल में ही प्रतिबंध लगा दिया गया था.

इस्लाम में इसे तीसरी सबसे पवित्र जगह माना जाता है. इस परिसर को यहूदी टेंपल माउंट के रूप में जानते हैं. यह यहूदियों के लिए भी पवित्र स्थान है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार