दूसरी शादी करने वालों को भी आजीवन पेंशन!

ब्रिटेन ताबूत इमेज कॉपीरइट Getty

ब्रिटेन में अब सेना से जुड़े लोग अगर पुनर्विवाह करते हैं, तब भी उन्हें आजीवन पेंशन मिलेगी.

युद्ध में विधवा और विधुर हुए क़रीब 4,000 लोगों को जिन नियमों की वजह से सैन्य पेंशन के लाभ से महरूम रहना पड़ता था, उसमें अगले साल बदलाव लाया जाना है.

ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि जिन लोगों ने "पुनर्विवाह किया है या फिर किसी के साथ घरेलू साझेदारी" की है, वे अप्रैल 2015 से पेंशन के हक़दार होंगे.

मौजूदा नियमों के तहत कुछ लोगों को अपनी पेंशन छोड़नी पड़ती है.

रक्षा सचिव माइकल फालॉन ने कहा है कि उन्होंने उस मुद्दे में सुधार लाने की कोशिश की, जिसकी वजह से लोग परेशान और निराश थे.

वॉर विडोज़ एसोसिएशन ने सरकार को एक याचिका सौंपकर सुधार की गुज़ारिश की थी.

'ग़लत समय पर मौत'

इमेज कॉपीरइट s
Image caption सरकार के फ़ैसले से 1973 से 2005 के बीच प्रियजनों को खोने वालों को मिलेगा फ़ायदा

इस फ़ैसले से उनको फायदा मिलेगा, जिन्होंने 1973 से 2005 के दौरान अपने प्रियजन खो दिए थे. इनमें वे महिलाएं शामिल हैं, जिनके जीवनसाथी उत्तरी आयरलैंड, फॉकलैंड और इराक़ युद्ध में मारे गए थे.

फिलहाल अप्रैल 1973 और अप्रैल 2005 के बीच जिनके पति की मौत हो गई या जिन्होंने सैन्य सेवा छोड़ दी थी, उन पर निर्भर रहने वाले जीवनसाथी को दोबारा शादी करने या नए साथी के साथ रहने पर पेंशन मिलनी बंद हो जाती थी.

हालांकि जिन्होंने 1973 से पहले सैन्य सेवा छोड़ दी या उनकी मौत हो गई या जो 2005 के बाद विधवा हुईं, उन्हें दूसरी योजनाओं के ज़रिए पेंशन मिलती रही.

वॉर विडोज़ एसोसिएशन के मुताबिक़ कुछ को पेंशन इसलिए नहीं मिल पा रही क्योंकि उनके जीवनसाथी की 'ग़लत समय पर मौत' हुई.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार