अफ़ग़ानिस्तान में आत्मघाती हमला

अफ़ग़ानिस्तान में कार बम हमला इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption पुलिस का कहना है कि इसमें कोई भी नागरिक हताहत नहीं हुआ है

अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल में विदेशियों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले एक परिसर पर हमला हुआ है. इस दौरान हुई कार्रवाई में अधिकारियों के अनुसार पुलिस ने चार आत्मघाती हमलावरों को मार दिया है.

स्थानीय नागरिकों के अनुसार उन्होंने गोलियाँ चलने और कई धमाकों की आवाज़ें सुनीं मगर पुलिस का कहना है कि इसमें कोई भी नागरिक हताहत नहीं हुआ है.

जिस परिसर पर ये हमला हुआ है उसे 'ग्रीन विलेज' कहा जाता है. इस हफ़्ते विदेशी कर्मचारियों को निशाना बनाकर किया गया ये दूसरा हमला है.

सोमवार को एक अन्य परिसर पर हुए तालिबान हमले में दो अफ़ग़ान सुरक्षाकर्मी मारे गए थे.

विदेश उप मंत्री मोहम्मद अय्यूब सालंगी ने संवाददाताओं को बताया, "चार आत्मघाती हमलावर मारे गए हैं, नागरिकों को कोई नुक़सान नहीं पहुँचा है."

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption एक अन्य परिसर पर हुए हमले में दो अफ़ग़ान सुरक्षाकर्मी मारे गए थे

तालिबान के एक प्रवक्ता का कहना है कि हमले में उनके गुट का हाथ था.

पहले भी हुए हमले

हमलवारों ने 'ग्रीन विलेज' के मुख्य द्वार पर विस्फोटकों से भरी एक कार में विस्फोट करके वहाँ घुसने की कोशिश की. उस परिसर में मुख्य रूप से सुरक्षा व्यवस्था से जुड़े लोग और विदेशी ठेकेदार रहते हैं.

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता सादिक सिद्दीक़ी ने बताया, "ग्रीन विलेज को चूँकि इससे पहले भी कई बार निशाना बनाया जा चुका है इसलिए वहाँ काफ़ी बड़े पैमाने पर सुरक्षा व्यवस्था थी. इसके चलते हमलावर अपने लक्ष्य तक नहीं पहुँच सके."

इससे पहले अक्तूबर 2013 में भी उस परिसर को निशाना बनाया गया था. उस समय हुए एक आत्मघाती हमले में पास से गुज़र रहे दो लोगों की मौत हो गई थी. 2012 में हुए एक अन्य हमले में सात गार्ड और आम लोग मारे गए थे.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption अफ़ग़ानिस्तान में पुलिस मुख्यालय को भी कुछ समय पहले निशाना बनाया गया था

अफ़ग़ानिस्तान में पश्चिमी देश अपना सैन्य अभियान ख़त्म कर रहे हैं और इस दौरान विदेशी कर्मचारियों, सरकारी अधिकारियों तथा सुरक्षा बलों पर हमले हाल के हफ़्तों में बढ़े हैं.

पिछले ही हफ़्ते एक आत्मघाती हमलावर ने अफ़ग़ानिस्तान की एक अहम महिला राजनेता को निशाना बनाने की कोशिश की थी. उसमें तीन आम नागरिकों की मौत हो गई थी तथा कई अन्य घायल हुए थे.

उससे एक हफ़्ते पहले एक आत्मघाती हमलावर काबुल में पुलिस प्रमुख के दफ़्तर में घुस गया था और वहाँ उसने एक वरिष्ठ अधिकारी की हत्या कर दी थी.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप हमसे फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ सकते हैं.)

संबंधित समाचार