हमले के बाद पोलियो कार्यक्रम स्थगित

पाकिस्तान के बलूचिस्तान में पोलियो टीकाकरण का काम कर रहे कर्मचारियों का कहना है कि जब तक उन्हें सुरक्षा का पूरा आश्वासन नहीं मिलता वे अपना काम स्थगित रखेंगे.

क्वेटा में पोलियो टीकाकरण अभियान से जुड़े चार लोगों को अज्ञात बंदूकधारियों ने गोली मार दी थी. इस हमले में तीन महिलाएं और एक व्यक्ति की मौत हो गई और तीन घायल हो गए.

पुलिस का कहना है कि ये हमलावर मोटरसाइकिल पर आए थे और उन्होंने तीन महिला स्वास्थ्य कर्मचारी और उनके ड्राइवर को अपना निशाना बनाया.

प्रशासन का कहना है कि इस हमले के बाद प्रांत में पोलियों उन्मूलन कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है.

पाकिस्तान में पोलियो कार्यकर्ताओं पर हमला होता रहता है हालांकि इस ताज़ा हमले की फिलहाल किसी गुट ने ज़िम्मेदारी नहीं ली है.

इमेज कॉपीरइट Getty

चरमपंथियों का आरोप है कि पोलियो दवा पिलाने वाले जासूस होते हैं और इस दवा से प्रजनन क्षमता पर असर पड़ता है.

पाकिस्तान में इस साल 260 नए मामले दर्ज किए गए हैं. पिछले दो सालों में 60 पोलियो स्वास्थ्यकर्मियों की हत्या की जा चुकी है और इन हत्याओं का आरोप इस्लामी चरमपंथियों पर लगता रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार