फ़र्गसनः सेकेंड ज्यूरी की मांग ख़ारिज

फ़र्गसन मामला इमेज कॉपीरइट

अमरीका के मिजूरी प्रांत के फ़र्गसन इलाके में पुलिस की गोली से मारे गए काले अमरीकी युवक मामले में गवर्नर ने दूसरे ग्रैंड ज्यूरी की मांग ख़ारिज कर दी है.

इससे पहले ग्रैंड ज्यूरी ने सुनवाई करते हुए गोरे पुलिस अधिकारी डेरेन विल्सन के ख़िलाफ अभियोग न चलाने का फैसला सुनाया था.

नौ अगस्त को मारे गए 18 वर्षीय माइकल ब्राउन के वकील ने ग्रैंड ज्यूरी के फैसले पर कड़ी आपत्ति ज़ाहिर करते हुए फैसले को 'अनुचित' बताया था और नए ग्रैंड ज्यूरी की मांग की थी.

अमरीका के सेंट लुईस और 12 दूसरे शहरों में पिछले दो दिनों से डेरेन विल्सन के खिलाफ अभियोग न चलाने के फैसले से माहौल अशांत बना रहा. हिंसक प्रदर्शन और दर्जनों गिरफ्तारियां हुईं.

ब्लैक फ्राइडे

इमेज कॉपीरइट Getty

बुधवार को थैंक्सगीविंग होलीडे के मौके पर भारी बर्फबारी के कारण लोगों का विरोध प्रदर्शन फीका रहा.

माइकल ब्राउन के परिजनों का कहना है कि वे मौजूदा फैसले से बेहद आहत हैं. इससे काले समुदाय और कानून के इस्तेमाल पर देशव्यापी बहस छिड़ चुकी है.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption युवक के पिता का आरोप है कि उनके बेटे के बारे में आपत्तिजनक बातें कही गई हैं.

सेंट लुईस पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक़, मिजूरी प्रांत के गवर्नर जे निक्सन के प्रवक्ता ने कहा है कि मामले को नई ज्यूरी के सामने ले जाने के पक्ष में वो नहीं हैं.

अमरीका की कुछ मशहूर हस्तियां आने वाले शुक्रवार को ग्रैंड ज्यूरी के फैसले के खिलाफ ब्लैक फ्राईडे मनाने वाले हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार