'सार्काहारी' खाना, मोदी इफ़ेक्ट तो नहीं?

सार्क सम्मेलन इमेज कॉपीरइट MEA

दक्षिण एशिया के नेताओं को सम्मेलन के दूसरे दिन धूलिखेल के एक रिजॉर्ट में शाकाहारी खाना परोसा गया है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अकबरूद्दीन ने ट्वीट में लिखा- "ऑल वेजिटेरियन फ़ेयर" यानी सारा मामला वेजिटेरियन है.

यह पता नहीं चल पाया है कि क़बाब और क़ीमा पराठा के शौक़ीन नवाज़ शरीफ़ की इस पर क्या राय थी? या अफ़ग़ानिस्तान के प्रधानमंत्री अशरफ़ ग़नी गोश्त की बोटी को मिस कर रहे थे या नहीं?

वेज मोमो, मेथी का सूप

इमेज कॉपीरइट MEA
Image caption विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अकबरूद्दीन द्वारा ट्विटर पर पोस्ट की गई मेन्यू की तस्वीर.

उन्होंने लंच के मेन्यू की तस्वीर भी ट्वीट की है, जिसमें स्टार्टर में वेज मोमो और मेथी के सूप हैं.

मेन कोर्स में नेपाली थाली है जिसमें आठ तरह की सब्ज़ियाँ और दाल शामिल हैं, जिन्हें घी-अचार के साथ सर्व किया जा रहा है.

Image caption सार्क सम्मेलन के अंतिम दिन भी नवाज़ और मोदी खिंचे खिंचे रहे.

मिठाई के मामले में क्षेत्रीय प्रतिनिधित्व का ध्यान रखा गया है, हर सदस्य देश की एक मिठाई मेन्यू में मौजूद है.

भारत से जो मिठाई चुनी गई है, वह गुजरात की बासुंदी और जलेबी, जिसे संयोग मानना ज़रा मुश्किल है.

पाकिस्तान की स्वीट डिश के तौर पर 'शाही टुकड़ा' भी उपलब्ध है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार