गूगल के टुकड़े व्यापार के हित में?

गूगल, ब्रेक-अप इमेज कॉपीरइट PA

यूरोपीय संसद ने गूगल के बंटवारे के पक्ष में मतदान किया है. संसद ने यह प्रस्ताव गूगल सर्च इंजन में अपनी सेवाओं को प्राथमिकता देने की शिकायत के बाद पारित किया है.

हालांकि सांसदों के पास आधिकारिक तौर पर कंपनी के विभाजन के अधिकार नहीं हैं. लेकिन इस महत्वपूर्ण प्रस्ताव के बाद यूरोपीय नियामक संस्थाओं के ऊपर कंपनी के ख़िलाफ़ कड़े क़दम उठाने का दबाव बढ़ जाएगा.

अमरीकी राजनीतिज्ञों और कारोबारी संस्थाओं ने इस मतदान पर निराशा जताई है.

इस मामले में अंतिम फ़ैसला यूरोपीय संघ के प्रतिस्पर्धा आयोग की कमिश्नर मार्ग्रेट वेस्टैगर लेंगी.

वेस्टैगर के ऊपर गूगल की प्रतिद्वंद्वी कंपनियों की तरफ़ से 2010 में दायर किए गए प्रतिस्पर्धा-विरोधी मामले की सुनवाई की ज़िम्मेदारी है.

शिकायत के आधार

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

यूरोप में इंटरनेट सर्च बाज़ार में गूगल की 90 प्रतिशत भागीदारी है. प्रतिद्वंद्वी कंपनियों ने ख़ासकर निम्न चार बिन्दुओं के बारे में शिकायत दर्ज कराई है -

- गूगल अपने सर्च परिणाम अपनी कंपनी की सेवाओं और प्रतिद्वंद्वी कंपनियों की समान सेवाओं के बीच क्या फ़र्क़ करता है.

- गूगल अपनी सेवाओं में दूसरी वेबसाइटों की सामाग्री किस तरह से प्रयोग करता है, जैसे किसी इलाक़े में मौजूद रेस्तरां की समीक्षा.

- लोग जिन शब्दों के सहारे गूगल खोज करते हैं उनके आधार पर विज्ञापन सेवाएँ प्रदान करने को लेकर स्पष्टता.

- कंपनियों के ऑनलाइन एड कैंपेन को प्रतिद्वंद्वी सर्च इंजनों पर ले जाने पर पाबंदी.

इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

यूरोपीय प्रतियोगिता आयोग ने इससे पहले किसी भी कंपनी के विभाजन का आदेश नहीं दिया है.

लेकिन यूरोपीय नेता लंबे समय से लंबित इस मुक़दमे के निपटारे के लिए आतुर हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार