2014 अब तक का सबसे गर्म साल!

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption अकसर जंगलों में लगने वाली आग से भी तापमान में वृद्धि होती है.

वैज्ञानिकों का कहना है कि मौजूदा साल 2014 रिकॉर्ड रखे जाने के बाद से अब तक सबसे गर्म साल रह सकता है.

2014 के पहले 10 महीनों में विश्व का औसत वायु तापमान दीर्घकालिक औसत से लगभग 0.57 सेल्सियस अधिक था.

वैश्विक तापमान को लेकर संयुक्त राष्ट्र के विश्व मौसम विज्ञान संगठन की तरफ़ से अनुमान पेश किया गया है.

अगर इस साल के शुरुआती 10 महीनों का रुझान, बाकी बचे दो महीनों में भी जारी रहता है तो तापमान वृद्धि के मामले में ये साल 1998, 2005 और 2010 से थोड़ा ही सही, लेकिन आगे होगा.

बढ़ता तापमान, जिंदगियां बर्बाद

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption बढ़ते तापमान के कारण ग्लेशियर भी तेज़ी से पिघल रहे हैं

डब्ल्यूएमओ के महासचिव माइकल जरौद का कहना है कि "2014 का शुरुआती डाटा जलवायु परिवर्तन को लेकर हमारे अनुमानों के मुताबिक रहा है."

ताज़ा आंकड़ों के साथ जारी उनके बयान में कहा गया है, "2014 को लेकर शुरुआती जानकारी बताती है कि 21वीं सदी के पंद्रह में 14 साल रिकॉर्ड गर्म रहे हैं."

उन्होंने कहा, "रिकॉर्ड तोड़ गर्मी ने मूसलाधार बारिश और बाढ़ के साथ मिल कर जीविकाओं और जिंदगियों को बर्बाद किया है. इस साल जो चौकाने वाली बात सामने आई है वो है बड़े हिस्से में समुद्र तल का बढ़ता हुआ तापमान जिसमें उत्तरी गोलार्ध भी शामिल है."

उनका कहना है कि नए आंकड़े बताते हैं कि ग्लोबल वॉर्मिंग में ठहराव नहीं आया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)