अमरीकी बंधक के परिजनों की अपील

बंधक के घर वालों ने की अल-क़ायदा से अपील इमेज कॉपीरइट EPA

यमन में बंधक बनाए गए ब्रितानी मूल के अमरीकी पत्रकार ल्यूक सोमर्स के परिवार ने एक वीडियो के ज़रिए अल-क़ायदा से अपील की है कि वो ल्यूक पर 'रहम खाएं' और उन्हें छोड़ दें.

पत्रकार ल्यूक की मां पॉला सोमर्स ने कहा, ''हमें ल्यूक को देखने का एक और मौक़ा दें.''

यूट्यूब पर जारी इस वीडियो में ल्यूक की मां और भाई ने कहा, ''वह तो यमन के लोगों के लिए अच्छा काम करने की कोशिश कर रहा था. ल्यूक केवल एक फ़ोटोजर्नलिस्ट है और वह अमरीकी कार्रवाइयों में किसी भी तरह से शामिल नहीं है.''

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption यह व्यक्ति कथित तौर पर अरब प्रायद्वीप में अल-क़ायदा का सदस्य है जिन्होंने मांगें पूरी न होने पर ल्यूक को मारने की धमकी दी थी.

अमरीका ने स्पष्ट किया कि उसने पिछले हफ़्ते ल्यूक को आज़ाद कराने की एक कोशिश की थी.

गुरुवार को नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल ने कहा कि ''दुर्भाग्य से मौक़े पर ल्यूक को बरामद नहीं किया जा सका जबकि दूसरे देशों के कई अपहृत लोगों को छुड़वाया गया था.''

बुधवार को जारी एक वीडियो में एक व्यक्ति ने अपनी पहचान 2013 में अपहृत ल्यूक सोमर्स के तौर पर बताई और कहा कि उसकी ज़िंदगी ख़तरे में है और मदद मांगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार