तालिबानः स्कूल पर हमला एकदम सही

मुल्ला फ़जलुल्लाह इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption तहरीक-ए-तालिबान के प्रमुख मुल्ला फ़जलुल्लाह की फ़ाइल फ़ोटो.

तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान ने पेशावर के स्कूल में हुए हमले को जायज ठहराया है.

पाकिस्तानी तालिबान के प्रवक्ता मोहम्मद खुरासानी ने एक बयान जारी कर कहा है कि उत्तरी वज़ीरिस्तान और ख़ैबर प्रांत में चरमपंथ विरोधी कार्रवाई के ख़िलाफ़ यह हमला किया गया है.

उन्होंने कहा है, "हमारे क़बीले के बच्चे हमारे बच्चे हैं. कबीले की महिलाएं हमारी माएं और बहनें हैं. पिछले एक साल में 600 लोग मारे गए. जो निर्दोष लोग मारे गए उनके शव क्षत-विक्षत हो गए."

मोहम्मद खुरासनी ने कहा कि ये सैनिक हैं, जिन्होंने खुद को एक विनाश में झोंक दिया. हम इस निर्णय को लेने पर मज़बूर थे, ताकि वे भी अपने घरों में घायल हों.

बयान में कहा गया है, "जब आप अपने घर में ही घायल होते हैं तब आपको अहसास होता है. उन्होंने हमारे घरों को जलाया और हम उनके घरों को आग के हवाले करने पर मजबूर हुए."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार