उत्तर कोरिया की अमरीका को 'धमकी'

किम जोंग उन, उत्तर कोरिया इमेज कॉपीरइट BBC World Service

अमरीका ने उत्तर कोरिया के इस दावे को ख़ारिज किया है कि सोनी पिक्चर्स पर हुए साइबर हमले के पीछे उसका हाथ नहीं है.

उत्तर कोरिया ने इन आरोपों को ख़ारिज किया है और इस मामले की संयुक्त जांच के लिए अमरीका को आमंत्रित किया है.

उसने साथ ही धमकी दी कि अगर अमरीका संयुक्त जांच के प्रस्ताव को ख़ारिज करता है तो इसके 'गंभीर परिणाम' हो सकते हैं.

'द इंटरव्यू' की रिलीज़ पर सोनी ने लगाई रोक

दूसरी ओर अमरीका की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद ने कहा कि उत्तर कोरिया को अपना अपराध स्वीकार करते हुए सोनी को मुआवज़ा देना चाहिए.

फ़िल्म

साइबर हमले और धमकियों के बाद सोनी ने उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन की काल्पनिक हत्या पर आधारित हास्य फ़िल्म 'द इंटरव्यू' की रिलीज़ टाल दी थी.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption 'द इंटरव्यू' को क्रिसमस के दिन रिलीज किया जाना था.

एफ़बीआई का कहना है कि साइबर हमले के इसके पीछे उत्तर कोरिया का हाथ है.

फ़िल्म से अमरीकी सुरक्षा को ख़तरा?

सोनी पिक्चर्स ने कहा कि क्रिसमस पर इस फ़िल्म को रिलीज़ करने का फ़ैसला इसलिए टालना पड़ा क्योंकि सिनेमाघरों ने फ़िल्म दिखाने से मना कर दिया.

कंपनी अब फ़िल्म को रिलीज़ कराने के विभिन्न विकल्पों पर ग़ौर कर रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार