एयर एशिया: 'शादी के पहले उनकी आख़िरी छुट्टी थी'

लापता विमान के यात्रियों के परिजन इमेज कॉपीरइट AP

एयर एशिया इंडोनेशिया के लापता विमान क्यूज़ैड 8501 की तलाश का काम रात होने की वजह से फ़िलहाल रोक दिया गया है.

तलाश के काम में इंडोनेशिया और सिंगापुर के फ़ौजी विमान लगे हुए थे. ये फ़ौजी विमान जावा सागर में विमान को तलाश रहे थे. इंडोनेशिया के सुराबाया शहर से सिंगापुर जा रहे इस विमान के उड़ान भरने के बाद इसका एयर ट्रैफ़िक कंट्रोल से संपर्क टूट गया था. विमान में कोई भारतीय यात्री नहीं है.

अपनों की तलाश में यात्रियों के रिश्तेदार काफ़ी परेशान हैं. लुईस सिद्धार्ता अपनी मंगेतर के बारे में जानकारी पाने के लिए सिंगापुर में इंतज़ार कर रही हैं. विमान में लुईस के मंगेतर अपने परिवार के साथ यात्रा कर रहे थे.

लुईस सिद्धार्ता ने बताया, "उन्होंने (मंगेतर के परिजन) ने छुट्टियों की योजना बनाई थी. लगता है हमारी शादी के पहले यह उनकी आख़िरी छुट्टी थी. अपने परिवार के साथ वो यह आख़िरी बार छुट्टी मनाने वाले थे."

इस बीच एयर एशिया के मालिक़ टॉनी फर्नेंडिस सुरबाया हवाईअड्डे पहुँच गए हैं जहाँ लापता यात्रियों के रिश्तेदार इकट्ठा हैं. उन्होंने कहा कि विमान का इस तरह गायब हो जाना बहुत अचरज भरी बात है और वे रिश्तेदारों की पीड़ा समझ सकते हैं.

टॉनी फर्नेंडिस की तुलना उन मलेशियाई अधिकारियों से की जा रही है जिन पर मार्च में मलेशियाई विमान के लापता होने के समय धीमी प्रतिक्रिया का आरोप लगा था.

संपर्क टूटा

इमेज कॉपीरइट AFP

लापता विमान एयर एशिया की इंडोनेशिया सब्सिडियरी का है. मलेशिया से चलने वाले एयर एशिया का इस सब्सिडियरी में 49 प्रतिशत हिस्सा है.

एयरबस ए320-200 में 162 यात्री और चालक दल के सदस्य सवार थे.

एयरलाइन एयर एशिया इंडोनेशिया ने ट्वीट कर बताया कि विमान संख्या क्यूज़ैड 8501 का एयर ट्रैफ़िक कंट्रोल से संपर्क टूट गया है.

बचाव अभियान

कंपनी का कहना है कि विमान का स्थानीय समयानुसार 7.24 बजे जकार्ता एयर ट्रैफ़िक कंट्रोल से संपर्क टूटा.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

एयर एशिया इंडोनेशिया ने विमान सवार लोगों के रिश्तेदारों के लिए एक आपात फ़ोनलाइन सेवा शुरू की है जिसका नबंर है +622 129 850 801.

कंपनी के मुताबिक़ विमान में 155 यात्री और चालक दल के सात सदस्य थे. यात्रियों में 138 वयस्क, 16 बच्चे और एक शिशु शामिल है.

यात्रियों में छह को छोड़कर सभी इंडोनेशिया के हैं. दक्षिण कोरिया के तीन और फ्रांस, मलेशिया तथा सिंगापुर का एक-एक यात्री है.

असामान्य रूट

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption लापता विमान में सवार अपने कथित यात्री परिजनों की तस्वीर दिखाता एक व्यक्ति

विमानन मंत्रालय के एक अधिकारी हादी मुस्तफ़ा ने बताया है कि विमान का संपर्क सुराबाया शहर और सिंगापुर के बीच मौजूद जावा सागर में टूटा.

उनका कहना है कि संपर्क टूटने से पहले विमान ने असामान्य रूट की मांग की थी.

एयर एशिया अब तक किसी हादसे का शिकार नहीं हुई, जबकि मलेशिया की राष्ट्रीय विमानन सेवा मलेशिया एयरलाइंस के दो विमान इस साल हादसे का शिकार हो चुके हैं- एमएच370 और एमएच17.

इमेज कॉपीरइट AP

विमान एमएच370 इस साल मार्च में कुलालालंपुर से बीजिंग के रास्ते में ग़ायब हो गया था. उसमें 239 यात्री और चालक दल के सदस्य थे. जबकि एमएच17 विमान को यूक्रेन में गिरा दिया गया था. इसमें विमान में सवार 298 लोग मारे गए थे.

एयर एशिया इंडोनेशिया पर सुरक्षा चिंताओं के कारण 2007 में यूरोपीय यूनियन में उड़ने पर प्रतिबंध लगाया गया था. यह प्रतिबंध जुलाई 2010 में हटाया गया.

ख़ास बातें

  • इंडोनेशिया के सुराबाया से उड़ान भरने के कुछ देर बाद क्यूज़ेड8501 से संपर्क टूटा.
  • सिंगापुर जा रहे एयरबस ए320-200 में 162 लोग सवार थे.
    इमेज कॉपीरइट EPA
  • एयर एशिया का कहना है कि ख़राब मौसम के कारण विमान ने रास्ता बदलने का अनुरोध किया था.
  • विमान में सवार अधिकांश यात्री इंडोनेशिया के, तीन दक्षिण कोरिया के, फ्रांस, मलेशिया और सिंगापुर का एक-एक यात्री.
  • परिजनों के लिए स्थापित आपातकालीन फ़ोनलाइन - +622 129 850 801.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार