पेरिस हमला: सैकड़ों अतिरिक्त सैनिक तैनात

फ़्रांस में हुए हमले के विरोध में जुटे प्रदर्शनकारी इमेज कॉपीरइट n

एक ऐसे वक्त में जब पुलिस शार्ली एब्डो हमले के हमलावरों की तलाश कर रही है फ़्रांस के कई शहरों में हज़ारों लोग मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देने के लिए जगह-जगह जमा हो रहे हैं.

राजधानी पेरिस में पैलेस दे ला रिपब्लीक जैसे सार्वजनिक स्थानों पर लोगों ने प्रतिरोध का प्रतीक बन चुके क़लम श्रद्धांजलि के तौर पर समर्पित किए हैं.

रविवार को फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वां ओलांद के साथ ब्रितानी प्रधानमंत्री डेविड कैमरून, जर्मन चांसलर एंगेला मर्केल, स्पेनिश प्रधानमंत्री मारिआनो राजोय और रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव पेरिस में एक 'यूनिटी मार्च' में शामिल होंगे.

इमेज कॉपीरइट n

फ़्रांस के आंतरिक मामलों के मंत्री बर्नर्ड कज़नूव ने देश की सुरक्षा के लिए सभी उपाय किए जाने का भरोसा दिलाया है.

शनिवार को मंत्रियों की आपात बैठक के बाद पेरिस और उसके आसपास के क्षेत्र में हाई अलर्ट लागू किया गया और ' सर्वोच्च सतर्कता' बरतने की बात कही गई.

सरकार ने 500 अतिरिक्त सैनिकों को पुलिस और अन्य सुरक्षा बलों के लोगों की मदद के लिए भेजा गया है.

इमेज कॉपीरइट Getty

कज़नूव ने यूनिटी मार्च के लिए सुरक्षा के कड़े इंतज़ाम करने का भी वादा किया.

बुधवार को व्यंग्य पत्रिका के दफ़्तर पर हुए हमले और उसके बाद की चरमपंथी कार्रवाइयों में कुल मिलाकर 17 लोग मारे गए थे. बाद में तीन संदिग्ध हमलावारों को पुलिस ने एक मुठभेड़ में मार दिया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार