बुगटी हत्याकांड में मुशर्रफ़ पर चार्जशीट

परवेज़ मुशर्रफ़ और शौकत अज़ीज़ इमेज कॉपीरइट AFP

बलूच नेता नवाब अकबर ख़ान बुगटी के हत्या के मुकदमे में पूर्व राष्ट्रपति जनरल (रिटायर्ड) परवेज़ मुशर्रफ़ और पूर्व प्रधानमंत्री शौकत अज़ीज़ समेत छह लोगों पर आरोप तय कर दिए गए हैं.

बलूचिस्तान की राजधानी क्वेटा में आतंकवाद विरोधी अदालत में यह आरोप पत्र दायर किया गया.

परवेज़ मुशर्रफ़ और शौकत अज़ीज़ के अलावा पूर्व संघीय गृहमंत्री आफ़ताब अहमद शेर पाउ, बलूचिस्तान के पूर्व राज्यपाल ओवैस अहमद ग़नी और गृहमंत्री शोएब अहमद नौशेरानी और पूर्व उपायुक्त डेरा बुगटी समद लासी को इसमें अभियुक्त बनाया गया है.

मुशर्रफ़ ग़ैरहाज़िर

इमेज कॉपीरइट Getty

बुधवार को सुनवाई के दौरान शोएब नैशेरानी और आफ़ताब शेर पाउ अदालत में मौजूद थे और उन्होंने अपराध में शामिल होने से इनकार किया.

मुशर्रफ़ बुधवार को भी अदालत में पेश नहीं हुए. उनके वकील ज़ीशान चीमा की ओर से कहा गया कि बीमारी की वजह से वह उपस्थित नहीं हो सकते.

अदालत में उनका मेडिकल प्रमाणपत्र पेश किया गया, जिस पर अदालत ने उन्हें आज उपस्थिति से छूट दे दी.

नवाब मोहम्मद अकबर ख़ान बुगटी 26 अगस्त 2006 को तरतानी में एक सैन्य अभियान के दौरान मारे गए थे.

मामले के वादी और नवाब बुगटी के पुत्र नवाबज़ादा जमील अकबर बुगटी के वकील सुहैल अहमद राजपूत ने बीबीसी से कहा कि मुशर्रफ़ बीमार नहीं हैं और अदालत से जान-बूझकर ग़ैरहाज़िर हैं.

Image caption अभियोजन पक्ष ने मुशर्रफ़ पर बीमारी का झूठा बहाना बनाने का आरोप लगाया.

सुहैल राजपूत के अनुसार मुशर्रफ़ टीवी चैनलों को साक्षात्कार दे रहे हैं और कहीं से बीमार नहीं लगते.

'रोज़ाना सुनवाई'

अभियोग लगाए जाने के बाद न्यायाधीश आफ़ताब अहमद लोन ने सुनवाई चार फ़रवरी तक स्थगित कर दी. इसके बाद सुनवाई रोज़ाना होगी.

इस मामले में आफ़ताब शेर पाउ और शोएब नोशैरानी जमानत पर हैं, लेकिन मुशर्रफ़ समेत बाक़ी अभियुक्त अब तक किसी भी दिन अदालत में पेश नहीं हुए हैं.

नवाब मोहम्मद अकबर ख़ान बुगटी 26 अगस्त 2006 को डेरा बुगती और कोहली के बीच क्षेत्र तरतानी में एक सैन्य अभियान के दौरान मारे गए थे.

बलूचिस्तान उच्च न्यायालय के आदेश पर बुगटी की मौत का मामला तीन साल बाद अक्तूबर 2009 में दर्ज किया गया था और अब आरोप तय किए गए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार