चरमपंथ के ख़िलाफ़ ब्रिटेन-अमरीका एकजुट

ओबामा और कैमरन की प्रेस कांफ्रेंस इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption व्हाइट हाउस में कैमरन और ओबामा की साझा प्रेस कांफ्रेस

ब्रिटेन और अमरीका कट्टरपंथ को रोकने और घरेलू ‘हिंसक चरमपंथ’ से निपटने के लिए अपनी विशेषज्ञताएं साझा करेंगे.

ब्रितानी प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने व्हाइट हाउस में अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा से मुलाक़ात के बाद ये घोषणा की. उन्होंने कहा कि दोनों ही देश ‘ज़हरीली और कट्टरपंथी विचारधारा’ का सामना कर रहे हैं.

इससे निपटने के लिए दोनों देशों का एक कार्यबल बनेगा जो छह महीने के भीतर दोनों नेताओं को अपनी रिपोर्ट देगा.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption हाल के दिनों में यूरोप में चरमपंथी ख़तरा बढ़ा है

कैमरन ने कहा कि ब्रिटेन इस्लामिक स्टेट के ख़िलाफ़ जमीन पर सक्रिय बलों की मदद के लिए और अधिक बिना हथियारों वाले ड्रोन तैनात करेगा.

'महान दोस्त'

व्हाइट हाउस में हुई साझा प्रेस कांफ्रेंस में राष्ट्रपति ओबामा ने कैमरन को 'महान दोस्त' बताया जबकि ब्रितानी प्रधानमंत्री ने अमरीका के 'दोस्ताना रुख' की तारीफ़ की.

दोनों नेताओं की ये मुलाक़ात कुछ ही दिन पहले पैरिस में हुए चरमपंथी हमलों के बाद हो रही है. इन हमलों में 17 लोग मारे गए थे.

चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट के और हमलों की आशंकाओं ने गुरुवार को उस वक्त गंभीर चिंता का रूप ले लिया जब बेल्जियम में पुलिस के एक लक्षित चरमपंथ विरोधी छापे के दौरान दो लोग मारे गए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार