हिज़बुल्लाह नहीं चाहता है संघर्ष

इसराइल हिज़बुल्लाह संघर्ष इमेज कॉपीरइट AP

इसराइल ने कहा है कि उसे लेबनानी चरमपंथी समूह हिज़बुल्लाह की ओर से गतिरोध समाप्त करने का संदेश मिला है.

पिछले दिनों हिज़बुल्लाह के हमले में इसराइल के दो सैनिक समेत तीन लोग मारे गए थे.

मारे जाने वालों में संयुक्त राष्ट्र शांति का एक सैनिक भी शामिल था.

रक्षा मंत्री मोशे यालुन ने कहा कि यह संदेश संयुक्त राष्ट्र मिशन की ओर से बढ़ाया गया है लेकिन इसराइली फ़ौज 'तैयार' रहेगी.

इमेज कॉपीरइट AFP

हिज़बुल्लाह और इसराइल के बीच साल 2006 में लड़ाई हुई थी जो कि एक समझौते के साथ समाप्त हुई थी.

इस संघर्ष में सीमा के दोनों ओर जानमाल की भारी क्षति हुई थी और यह एक महीने तक चला था.

हिज़बुल्लाह के अनुसार सीरिया पर हुए इसराइली हवाई हमले में उसके लड़ाकों की मौत का बदला लेने के लिए इसराइली सैनिकों को निशाना बनाया गया है.

इसराइली हमले में ईरानी सेना के वरिष्ठ अधिकारी के अलावा हिज़बुल्लाह के छह लड़ाके मारे गए थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार