डेनमार्क का 'सुपरहीरो' से इंकार

डेनमार्क का 'सुपरहीरो' इमेज कॉपीरइट

डेनमार्क के एक व्यक्ति को तब निराशा हाथ लगी जब अधिकारियों ने उनके नाम को बदलने से इंकार कर दिया.

बेंजामिन हर्स्ट अपने नाम के आगे सुपरहीरो लगाना चाहते थे. लेकिन अधिकारियों ने इसकी इजाज़त नहीं दी.

हर्स्ट की कोपेनहेगन में खिलौनों की एक दूकान है. वे बताते हैं कि उनकी ज़िंदगी कॉमिक किताब के किरदारों के इर्द-गिर्द ही घूमती रहती है.

जीलैंड्स-पोस्टन वेबसाइट के अनुसार नामकरण अधिकारियों ने हर्स्ट की अपील ये कहते हुए ख़ारिज कर दी है कि "सुपरहीरो काल्पनिक और मायावी किरदारों के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा है."

ऑनलाइन मुहिम

हर्स्ट 26 साल के हैं. उनका मानना है कि बड़ों को अपना नाम रखने की आज़ादी होनी चाहिए.

बीबीसी को बताते हुए बेंजामिन हर्स्ट कहते हैं, "मैं मानता हूं कि वयस्कों को ये हक़ होना चाहिए कि वे बचपन में रखे गए नाम को बदलकर अपनी मर्ज़ी का नाम रखें."

इमेज कॉपीरइट DARE2 MANSION

वे कहते हैं, "बस एक ही जीवन तो मिला है हमें. और इस बात का हक़ किसी अधिकारियों को क्यों हो कि हम किस रूप में पहचाने जाएं?"

बेंजामिन हर्स्ट की लड़ाई जारी है. उन्होंने अधिकारियों के इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ आगे अपील की है और साथ ही समर्थन हासिल करने के लिए ऑनलाइन मुहिम भी चला रहे हैं.

हर्स्ट ख़ुद भी जल्दी ही जुड़वां बच्चों के पिता बनने वाले हैं और उन्होंने फ़ैसला किया है कि उनके बच्चे बड़े होकर ख़ुद ही अपना नाम तय करें.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार