जब एटीएम से अपने आप नोट निकलने लगे..

साइबर हमला इमेज कॉपीरइट Thinkstock

रूसी कंप्यूटर सुरक्षा कंपनी कास्परस्काई लैब का कहना है कि एक व्यवस्थित साइबर हमले में 30 देशों के लगभग 100 बैंकों से करोड़ों डॉलर चुराए गए हैं.

इसका पता तब चला जब यूक्रेन की राजधानी कीएफ़ में एक एटीएम मशीन से अचानक अपने आप पैसे निकलने लगे.

इमेज कॉपीरइट

इसके बाद रूसी कंपनी कास्परस्काई के विशेषज्ञों को बुलाया गया, उनकी जांच में पता चला कि साइबर अपराधी एटीएम मशीन को इस तरह प्रोग्राम कर सकते हैं कि वो निश्चित समय पर ख़ुद पैसे निकालने लग जाती है.

कंप्यूटर विशेषज्ञों ने पाया कि इस साइबर हमले के पीछे एक ऐसा गिरोह काम कर रहा है जिसके सदस्य रूस, यूक्रेन और चीन में मौजूद हैं.

उन्होंने लगभग सौ बैंकों को निशाना बनाया और उनसे करोड़ों डॉलर उड़ा लिए.

हालांकि इंटरपोल और यूरोपोल साइबर डकैती इन मामलों की जांच कर रही हैं, लेकिन बैंकों ने इस पर अपनी तरफ़ से कुछ नहीं कहा है.

इस बारे में जो भी जानकारी आई है, वो कास्परस्काई के हवाले से आई है, जो कंपनियों को आईटी सुरक्षा समाधान और एंटी वायरस मुहैया कराती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार