बाल्टिक में दखल से ब्रिटेन चिंतित

माइकल फ़ालन इमेज कॉपीरइट REUTERS

ब्रितानी रक्षा मंत्री माइकल फेलन ने कहा है कि रूस बाल्टिक क्षेत्र के देश लाटविया, लिथुवानिया और इस्टोनिया को अस्थिर करने का प्रयास कर रहा है.

उन्होंने कहा कि वे नेटो सदस्य और सोवियत संघ में शामिल रहे देशों पर रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की ओर से डाले जा रहे दबाव से चिंतित है.

उन्होंने कहा कि रूस इन देशों में वही रणनीति अपना सकता है, जो उसने यूक्रेन में अपनाई है.

नेटो की तैयारी

इमेज कॉपीरइट Getty

ब्रितानी रक्षा मंत्री ने कहा कि नेटो को रूस की किसी भी तरह की आक्रमकता के लिए तैयार रहना चाहिए.

फ़ेलन का यह बयान प्रधानमंत्री डेविड केमरन की यूरोप से उस अपील के बाद आया है जिसमें इशारा किया गया है कि रूस ने यदि यूक्रेन को अस्थिर करना बंद न किया तो उसे भविष्य में आर्थिक और वित्तीय प्रतिबंधों का सामना करना पड़ेगा.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption ब्रितानी रक्षा मंत्री ने रूस की आक्रमकता का सामना करने के लिए नेटो को तैयार रहने को कहा है.

सिएरा लियोन की यात्रा के दौरान विमान में फ़ेलन ने द टाइम्स और डेली टेलीग्राफ़ के पत्रकारों से कहा कि वो पुतिन की ओर से बाल्टिक क्षेत्र पर डाले जा रहे दवाब से चिंतित हैं.

उन्होंने कहा कि रूस उसी गुप्त रणनीति का उपयोग करना चाहता है जैसा उसने क्राइमिया को हड़पने और अभी यूक्रेन संकट में किया है.

अलगाववादियों को मदद करने के आरोपों से रूस इनकार करता रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार