ब्लॉगर की हत्या पर विरोध प्रदर्शन

बांग्लादेशी ब्लॉगर इमेज कॉपीरइट AFP

बांग्लादेश की राजधानी ढाका में लेखकों और शिक्षकों समेत सैकड़ों लोगों ने ब्लॉगर अविजीत रॉय की हत्या पर विरोध प्रदर्शन किया है.

नास्तिक विचारों के लिए विख्यात बांग्लादेशी अमरीकी ब्लॉगर अविजित रॉय की छुरा मार कर हत्या कर दी गई.

अमरीका में रहने वाले अविजीत बांग्लादेश में अपनी पत्नी के साथ एक पुस्तक मेले में हिस्सा लेने आए थे. इस हमले में उनकी पत्नी भी घायल हो गई हैं.

अमरीका ने अविजीत रॉय की कड़ी निंदा की है और इसे हिंसा की ऐसी वारदात कहा है जो हैरान करने वाली है.

अमरीकी विदेश विभाग की प्रवक्ता जेन प्साकी ने कहा है कि यह बांग्लादेश में स्वतंत्र बुद्धिजीवियों और धार्मिक भाषणों की शानदार परंपरा पर आघात है

न्याय की गुहार

इमेज कॉपीरइट AP

अविजीत रॉय के पिता अजय रॉय ने सरकार से न्याय की गुहार लगाई है. उन्होंने कहा, ''यह बांग्लादेश जो शहीदों के खूनी बलिदान से बना था अब चरमपंथियों के अड्डे में बदल गया है. मैं सरकार से मांग करता हूं कि वो चरमपंथी गतिविधियों को रोके, और चरमपंथियों को अदालत में लाकर उनके लिए कठोर सज़ा सुनिश्चित करे.''

बांग्लादेश की सरकार की तरफ से इस मामले में अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

इमेज कॉपीरइट AP

पुलिस का कहना है कि वो एक स्थानीय इस्लामी गुट की जांच कर रही है जिसने इस हत्या की तारीफ़ की है.

ढाका पुलिस के प्रवक्ता और सह आयुक्त शिबली नोमान ने दोषियों को जल्दी ही पकड़ने की उम्मीद जताई है. उन्होंने कहा, ''अब तक कुछ पता नहीं चला है लेकिन हमें उम्मीद है कि हम उन्हें जल्दी ही गिरफ्तार करने में कामयाब होंगे और उन्हें न्याय तक पहुंचाएँगे जिससे कि इस तरह का अपराध दुबारा न हो. मुझे उम्मीद है कि हम सफल होंगे.''

अविजित रॉय को धर्मनिरपेक्ष और उदार विचारों को बढ़ावा देने के लिए धमकियां मिलती रही हैं. उनके विचारों को कट्टरपंथी इस्लाम विरोधी करार देते हैं.

इमेज कॉपीरइट AVIJIT ROY FACEBOOK

बांग्लादेश में दो साल पहले धार्मिक चरमपंथ की आलोचना करने पर एक और ब्लॉगर अहमद रजीब हैदर की भी हत्या कर दी गई थी.

(सोशल मीडिया जैसे फ़ेसबुक और ट्विटर पर आप हमें फ़ॉलो कर सकते हैं. यदि आप बीबीसी हिन्दी का एंड्रॉएड ऐप भी देखना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें.)

संबंधित समाचार