परिजनों ने पहली बार देखा एमएच 17 का मलबा

एमएच 17 का मलबा इमेज कॉपीरइट AP

यूक्रेन में मलेशिया विमान हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को नीदरलैंड में पहली बार विमान का मलबा देखने को मिला.

विमान का मलबा देखने के लिए परिजन गिल्ज़ रिजेन वायु सेना के अड्डे पर पहुंचे.

साल 2014 के जुलाई में रूस समर्थक अलगाववादियों के नियंत्रण वाले क्षेत्र में मलेशिया एयरलाइंस की उड़ान संख्या 17 को मार गिराया गया था.

इमेज कॉपीरइट

एमएच 17 एमस्टर्डम से कुआलालंपुर की उड़ान पर था. विमान में सवार सभी 298 लोग मारे गए थे.

विमान गिरने के कारणों का पता लगाने में जुटे डच जांचकर्ता इस आशंका को ध्यान में रखते हुए जांच कर रहे हैं कि कहीं एमएस 17 हादसा विद्रोहियों के कब्ज़े वाले इलाक़े में मिसाइल हमले के कारण तो नहीं हुआ.

इमेज कॉपीरइट EPA

आपराधिक मामले की अगुवाई कर रहे डच अभियोजक ने मंगलवार को कहा कि हालांकि किसी दूसरी तरह की आशंका जाहिर करना जल्दबाजी होगी लेकिन हो सकता है कि ये सतह से सतह पर मार करने वाला बक मिसाइल लांचर हो.

बीबीसी संवाददाता अन्ना होलीगन के अनुसार, "विमान के एक टुकड़े से हरी घास दिख रही थी और बायें पंख में सुराख़ भी दिखाई दे रहा था."

इन टुकड़ों के आधार पर हादसे की त्रिआयामी तस्वीर बनाई जाएगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार