ऑस्ट्रेलियाई नागरिकों को फांसी से बचाने की आख़िरी कोशिश

एंड्रु चान और म्युरान सुकुमरान इमेज कॉपीरइट AFP

ऑस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री ने इंडोनेशिया सरकार के सामने कैदियों की अदला-बदली की पेशकश की है.

मौत की सज़ा का इंतज़ार कर रहे दो ऑस्ट्रेलियाई को छुड़ाने के लिए यह पेशकश की गई है.

उन्हें छुड़ाने की ऑस्ट्रेलिया की यह आख़िरी कोशिश है.

विदेश मंत्री जूली बिशप ने गुरुवार को बताया कि वे इंडोनेशिया की ओर से उनके जवाब का इंतज़ार कर रही हैं.

इंडोनेशिया के सामने तीन कैदियों को छोड़ने के बदले यह पेशकश की गई है.

आस्ट्रेलियाई नागरिक एंड्रु चान और म्युरन सुकुमरान को बुधवार को एक द्वीप पर ले जा गया है जहां उन्हें मौत की सज़ा दी जाएगी.

ड्रग तस्करी

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption इंडोनेशिया के न्युसाकैमबंगन जेल में मौज़ की सज़ा दी जानी है.

एंड्रु चान और म्युरन सुकुमरान के ऊपर ड्रग तस्करी का मामला है.

प्रधानमंत्री टोनी एबोट ने कहा कि उन्होंने इंडोनेशियाई राष्ट्रपति जोको विडोडो से समझौते के लिए अनुरोध किया है.

बिशप ने प्रधानमंत्री एबोट के साथ एक संयुक्त प्रेस सम्मेलन में कैदियों की अदला-बदली के विकल्प की पुष्टि की है.

उन्होंने कहा,"हम कैदियों की अदला-बदली से संबंधित सभी विकल्पों पर बात करने को तैयार हैं."

इंडोनेशिया के ड्रग तस्करी से जुड़े क़ानून दुनिया भर में सबसे सख़्त माने जाते हैं.

वर्ष 2005 में आठ लोगों को गिरफ़्तार किया गया था जिसमें दो ऑस्ट्रेलियाई नागरिकों को मौत की सज़ा सुनाई गई थी जबकि बाकी सात लोगों को 20 साल से आजीवन कारावास तक की सज़ा दी गई.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार