ईरान के मुद्दे पर ओबामा की रिपब्लिकनों से ठनी

इमेज कॉपीरइट Getty

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कांग्रेस के रिपब्लिकन सांसदों की तरफ़ से ईरान को लिखे गए पत्र को ख़ारिज कर दिया है.

ओबामा ने कहा है कि इस तरह का पत्र लिख कर रिपब्लिकन ईरान के कट्टरपंथी तत्वों का साथ ही दे रहे हैं जो परमाणु कार्यक्रम पर बातचीत का विरोध करते हैं.

47 सीनेटरों ने इस पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं और इसमें ईरानी नेतृत्व को चेतावनी दी गई है कि उसके परमाणु कार्यक्रम पर होने वाले समझौते को अगर कांग्रेस की मंजूरी नहीं मिलती है तो उसे ओबामा का कार्यकाल खत्म होने के साथ रद्द किया जा सकता है.

इससे पहले व्हाइट हाउस ने इस पत्र की निंदा करते हुए कहा कि राष्ट्रपति ओबामा की विदेश नीति को कमज़ोर करने की कोशिश हो रही है.

इमेज कॉपीरइट
Image caption अमरीकी कांग्रेस के दोनों सदनों में अभी रिपब्लिकन पार्टी का बहुमत है

ईरानी विदेश मंत्री जवाद जरीफ ने पत्र को दुष्प्रचार कहते हुए ख़ारिज किया है.

ईरान के साथ अमरीका, रूस, ब्रिटेन, फ्रांस, चीन और जर्मनी उसके विवादास्पद परमाणु कार्यक्रम पर समझौते के लिए बातचीत कर रहे है.

प्रस्तावित समझौते में ईरान की परमाणु गतिविधियों को सीमित किया जाएगा और बदले में उसके ख़िलाफ़ लगे प्रतिबंधों में ढील दी जाएगी,

पश्चिमी देशों को संदेह है कि ईरान परमाणु हथियार बनाने का प्रयास कर रहा है जबकि ईरान का कहना है कि उसकी परमाणु गतिविधियों का उद्देश्य ऊर्जा जरूरतों को पूरा करना है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)