मोदी, सत्यार्थी से महान एप्पल के सीईओ

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इमेज कॉपीरइट AP

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और नोबल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी का नाम फ़ॉर्च्यून मैगज़ीन के विश्व के 50 महान नेताओं की सालाना सूची में शामिल किया गया है. इस लिस्ट में बिज़नेस, राजनीति और समाज कल्याण के क्षेत्र से ''असाधारण'' महिला और पुरुषों को शामिल किया जाता है.

विश्व के महान नेताओं की सूची में जहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पांचवे स्थान पर हैं वहीं कैलाश सत्यार्थी 28वें स्थान पर.

इमेज कॉपीरइट PTI

इस लिस्ट में पहला स्थान एप्पल कंपनी के सीईओ टिम कुक को प्राप्त हुआ है. इस सूची में एक उल्लेखनीय अपवाद रहा अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का लगातार दूसरे वर्ष भी सूची से ग़ायब रहना.

फ़ॉर्च्यून का कहना है कि घरेलू और वैश्विक ''मुश्किल हालात का सामना'' करते हुए ओबामा ने ''घुटने टेक दिए''.

इमेज कॉपीरइट AP

फ़ॉर्च्यून ने बांधे मोदी की तारीफ़ो के पुल

मोदी पर फ़ॉर्च्यून का कहना था कि भारतीय नेता ने ''असल में'' अपने चुनावी वादों को अमली जामा पहनाना शुरू कर दिया है. इस क्षेत्र में वो ''असल तरक़्क़ी'' कर रहे हैं. उन्होंने भारत को ज़्यादा व्यापार के अनुकूल कम नियंत्रित बनाने के प्रयास किए, महिलाओं के ख़िलाफ़ हिंसा को संबोधित किया, स्वच्छता सुधारी और अन्य एशियाई देशों और अमरीका से संबंधों को सुधारने का काम भी किया.''

इमेज कॉपीरइट Getty

फ़ॉर्च्यून ने ये भी कहा कि मोदी ने नौकरशाही में बदलाव किया और वो हर संभव क़दम उठाए जो उठाए जा सकते थे. उन्होंने भारत आने के लिए वीज़ा लेने की प्रक्रिया को भी आसान बनाया.

सत्यार्थी पर फ़ॉर्च्यून का कहना था कि हालांकि उनपर पिछले साल नोबेल शांति पुरस्कार पाने वाली मलाला युसुफ़ज़ई हावी रही लेकिन कैलाश सत्यार्थी ने तीन दशकों से बाल मज़दूरी के ख़िलाफ़ वैश्विक लड़ाई का नेतृत्व किया है. उनके अनुसार बाल मज़दूरी ख़त्म करने के लिए किसी ने भी उनके जितना काम नहीं किया है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

इस लिस्ट में यूरोपीय सेंट्रल बैंक के प्रेज़िडेंट मारियो ड्राघी दूसरे स्थान पर हैं चीन के राष्ट्रपति शि जिनपिंग तीसरे और पोप फ़्रांसिस चौथे पायदान पर हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार