यमन के राष्ट्रपति ने रियाद में पनाह ली

यमन के राष्ट्रपति अब्द राब्बुह मंसूर हादी इमेज कॉपीरइट AFP

अधिकारियों का कहना है कि यमन के राष्ट्रपति अब्द राब्बुह मंसूर हादी सऊदी अरब की राजधानी रियाद पहुंच गए हैं.

यमन के शिया हूती विद्रोहियों के खिलाफ़ सऊदी अरब के नेतृत्व में गठबंधन बलों ने बुधवार रात हवाई हमले शुरू कर दिए थे. ईरान ने इन हमलों को ख़तरनाक बताया है.

यह पहला आधिकारिक स्पष्टीकरण है कि बुधवार के बाद से यमन के राष्ट्रपति कहां हैं. बुधवार को वह विद्रोही बलों की बढ़त को देखते हुए अदन शहर से चले गए थे.

अरब लीग की बैठक

इमेज कॉपीरइट epa

अधिकारियों का कहना है कि राष्ट्रपति शनिवार को अरब लीग की बैठक में भाग लेने के लिए मिस्र जाएंगे.

हवाई हमलों की दूसरी रात लड़ाकू विमानों ने यमन की राजधानी सना में विद्रोहियों के ठिकानों और अदेन के पास स्थित सैन्य हवाईअड्डे को निशाना बनाया.

ख़बरों के मुताबिक़ इन हमलों में आम लोग भी हताहत हुए हैं.

अदेन में राष्ट्रपति समर्थक सुरक्षा बलों और हूती विद्रोहियों के बीच झड़पों की भी ख़बरें हैं.

सऊदी अरब का कहना है कि वह राष्ट्रपति अब्द राब्बुह मंसूर हादी की वैध सरकार की रक्षा कर रहा है.

राष्ट्रपति का पलायन

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption सऊदी अरब का कहना है कि वह यमन की वैध सरकार की रक्षा के लिए हमला कर रहा है.

सना पर हूती विद्रोहियों के नियंत्रण के बाद से राष्ट्रपति हादी ने पिछले महीने अदन में शरण ली थी. वे राजधानी सना से भागकर अदेन आए थे जहाँ वो नज़रबंद थे.

यमन के विदेश मंत्री ने कहा है कि अरब नेतृत्व वाले गठबंधन बलों का हवाई हमला जल्द से जल्द समाप्त हो जाना चाहिए.

बीबीसी से बात करते हुए विदेश मंत्री रियाद यासिन ने कहा कि हूती विद्रोहियों की बढ़त को रोकने के बाद कुछ दिनों (कुछ घंटों) में बमबारी अभियान रुक सकता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं. )

संबंधित समाचार