यूनिवर्सिटी में अल-शबाब का हमला, 70 छात्र मरे

कीनिया इमेज कॉपीरइट Getty

कीनिया के उत्तर पूर्व में इस्लामी चरमपंथी गुट अल शबाब ने एक यूनिवर्सिटी पर हमला कर 70 स्टूडेंट्स को मार दिया है और दर्जनों को बंधक बना लिया है.

आपदा प्रबंधन से जुड़े अधिकारियों ने कहा कि गेरिसा शहर में हुए इस हमले में कम से कम 79 लोग घायल हो गए हैं, जबकि 500 स्टूडेंट्स को बचा लिया गया है.

गृहमंत्री जोसफ़ कैसेरी ने कहा कि चार हमलावर मारे जा चुके हैं. ये बात स्पष्ट नहीं है कि बंधक बनाने वाले अब भी वहाँ मौजूद हैं या नहीं.

देश के कई हिस्सों में रात का कर्फ्यू लगा दिया गया है.

मुस्लिम बंधक छोड़े

इमेज कॉपीरइट AP

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, नक़ाब लगाए बंदूकधारियों ने अंधाधुंध गोलियां चलानी शुरू कर दीं. आशंका है कि मरने वालों की संख्या ज़्यादा भी हो सकती है.

अल-शबाब के प्रवक्ता ने बीबीसी को बताया कि बंधकों को दो समूहों में अलग किया गया था और 15 मुसलमानों को छोड़ा जा चुका है, जबकि ईसाई स्टूडेंट्स को रोक लिया गया है.

उन्होंने कहा कि 815 स्टूडेंट्स में अभी तक 535 का पता नहीं चल पाया है.

समाचार एजेंसी एएफ़पी के मुताब़िक, रेडक्रॉस ने बताया कि 50 स्टूडेंट्स को छोड़ दिया गया है.

ये विश्वविद्यालय 2011 में शुरू किया गया था और इस इलाके में उच्च शिक्षा का एकमात्र केंद्र है.

अल-शबाब सोमालिया में इस्लामिक स्टेट बनाने के लिए लड़ रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार