अधिक दुबली मॉडल्स पर क़ानून

इमेज कॉपीरइट AP

फ्रांस की राष्ट्रीय संसद ने बहुत पतली मॉडल्स के शो में शामिल किए जाने पर पाबंदी लगा दी है.

क़ानून के भीतर मॉडल्स को तय किए गए वज़न के उपर होना ज़रूरी होगा.

वज़न या ये पैमाना बॉडी मास - लंबाई और उसके आधार पर वज़न; के आधार पर तैयार किया गया है.

जेल और जुर्माना

क़ानून के मुताबिक़ किसी माडलिंग एजेंसी ने क़ानून का उलंघन करने पर उसके अधिकारियों को छह माह की जेल हो सकती है.

एजेंसी पर इस मामले में जुर्माना भी लगाया जा सकता है.

संसद ने बहुत कम वज़न को ब़ढ़ावा देने के ख़िलाफ़ भी एक क़ानून पास किया है.

इमेज कॉपीरइट Getty

क़ानून का लक्ष्य उन इंटरनट साईट्स पर रोक लगानी है जो वज़न को ख़तरनाक सीमा तक कम करने को बढ़ावा देते हैं.

अभियान और विरोध

औरतों के एक समूह और महिलाओं के लिए काम करने वाली स्वंयसेवी संस्थाएं फ़ैशन इंडस्ट्री के उन अभियानों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाती रही हैं जिसमें उस तरह के दुबलेपन को बढ़ावा दिया जाता है जो अस्वस्थ्य है.

उनका कहना था इंडस्ट्री इस तरह की क़द काठी और बनावट को बढ़ावा दे रही हैं जो एनोरेग्जिया और वैसी ही ख़तरनाक बीमारियों का कारण बन सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार