एवरेस्ट के नीचे से निकलेगी चीन की सुरंग

एवरेस्ट पर्वत इमेज कॉपीरइट AFP

चीन, नेपाल को जोड़ने वाली एक रेलवे लाइन बनाने की योजना बना रहा है, लेकिन इसके लिए उसे एवरेस्ट पर्वत के नीचे सुरंग बनानी होगी.

अगर चीन दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत के नीचे ये सुरंग बना लेता है तो ये सबसे बड़ी सुरंग होगी.

एवरेस्ट के नीचे सुरंग खोदना कोई आसान काम नहीं है, इसे खोदने में कई साल लग जाएँगे.

दुनिया की सबसे लंबी गोटर्ड रेल सुरंग स्विटज़रलैंड में एल्प्स पर्वत के नीचे से बनाई गई है, जिसे पूरा करने में 14 वर्ष लगे हैं. इस सुरंग के 2016 से पहले शुरू होने की उम्मीद नहीं है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

चीनी मीडिया के अनुसार चीन का अनुमान है कि वो 2020 तक इस परियोजना को पूरा कर देंगे.

हालाँकि दुनिया में ऐसी कई सुरंगें हैं जो न केवल शहरों को बल्कि देशों को भी जोड़ती हैं. एक नज़र

1.सीकन टनल (जापान)

जापान की ये रेलवे सुरंग 23.3 किलोमीटर लंबी है. ये सुरंग जापानी द्वीप होन्शू को उत्तरी द्वीप होकाइडू से जोड़ती है. ये अबतक की समुद्र के अंदर बनी सबसे लंबी सुरंग है.

2. चैनल टनल (ब्रिटेन, फ़्रांस)

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

ब्रिटेन के केंट को उत्तरी फ़्रांस से चैनल टनल से जोड़ा गया है. ये 50 किलोमीटर लंबी रेल सुरंग है. दोनों देशों के लोग सुरंग से गुज़रती हाई-स्पीड पैसेंजर ट्रेन का इस्तेमाल करते हैं.

3. लूचबर्ग बेस टनल (स्विट्ज़रलैंड)

यह 34 किलोमीटर लंबी रेलवे सुरंग स्विट्ज़रलैंड के पर्वत को चीर कर बनाई गई. पैसेंजर और मालवाहक ट्रेनें इस सुरंग से निकलती हैं.

4. न्यू ग्वांजिआओ टनल (चीन)

इमेज कॉपीरइट Getty

चीन की न्यू ग्वांजिआओ टनल चीन के चिनख़ाई प्रांत को तिब्बत से जोड़ता है. न्यू ग्वांजिआओ टनल चीन की सबसे बड़ी सुरंग है.

5. ग्वाडाराम सुरंग(स्पेन)

यूरोप के देशों में कई लंबी सुरंगे हैं और स्पेन की ग्वाडारामा सुरंग उनमें से एक है. 28 किलोमीटर लंबी सुरंग एक हाई स्पीड रूट है जो मेड्रिड को वेलाडोलिड से जोड़ती है.

6. पीर पंजाल (भारत)

भारत में भी कई रेलवे सुरंगें हैं. जम्मू-कश्मीर में बनी 11 किलोमीटर लंबी सुरंग पीर पंजाल पर्वत शृंखला से होकर गुजरती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार