अमरीका क्यूबा: शत्रु नहीं पर मित्रता दूर

ओबामा राउल कास्त्रो इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption अमरीकी राष्ट्रपति ओबामा ने क्यूबा के नेता के साथ मुलाक़ात को निर्णायक मोड़ बताया है.

पनामा में अमरीकी देशों के सम्मेलन में क्यूबा के राष्ट्रपति राउल कास्त्रो के साथ हुई मुलाक़ात को बराक ओबामा ने कहा कि ''उनकी ये मुलाक़ात निर्णायक मोड़ साबित हो सकती है.''

पनामा में मौजूद बीबीसी संवाददाता का कहना है कि दोनों नेता सहज नहीं थे लेकिन उनका लहज़ा दोस्ताना था.

क़रीब 50 सालों बाद दोनों देशों के बीच इस स्तर की बातचीत हुई है.

भविष्य की ओर देखें

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption क़रीब पाँच दशकों बाद क्यूबा और अमरीका के बीच उच्च स्तरीय वार्ता हुई है.

अमरीकी राष्ट्रपति ओबामा ने कहा, " अब हम इस हालत में हैं कि भविष्य की ओर देखें और पहले जो हो चुका है उसका कुछ हिस्सा पीछे छोड़ दें ताकि दोनों देश बात कर सकें."

मुलाक़ात के बाद क्यूबा के राष्ट्रपति राउल कास्त्रो ने कहा कि दोनों देश तमाम असहमतियों के बावजूद एक-दूसरे के विचारों का सम्मान करने पर सहमत हो गए हैं.

उन्होंने कहा, "हम संयम के साथ हर मुद्दे पर बात करने के लिए तैयार हो गए हैं, कुछ मुद्दों पर सहमति होगी और कुछ पर नहीं."

अमरीका के क्यूबा को चरमपंथ को बढ़ावा देने वाले देशों की सूची से हटाने की ख़बरें आई हैं. यदि ऐसा पूरी तरह हुआ तो दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंध बहाल हो सकेंगे और दूतावास खुल सकेंगे.

इतिहास

1959 में क्यूबा में हुई क्रांति के बाद से दोनों देशों के बीच संबंध ख़त्म हो गए थे और क्यूबा पर आर्थिक प्रतिबंध लगा दिए गए थे.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption अपने भाषण में क्यूबा के नेता राउल कास्त्रो ने अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा को ईमानदार आदमी बताया.

आर्थिक नाकेबंदी और प्रतिबंधों ने क्यूबा को कमज़ोर कर दिया है. बुनियादी ढांचा बुरे हाल में है. पहले सोवियत संघ क्यूबा की मदद करता था और उसके बाद वेनेज़ुएला.

लेकिन तेल की कीमतें गिरने की वजह से अब वेनेज़ुएला भी क्यूबा की मदद पहले की तरह नहीं कर पा रहा. ऐसे में क्यूबा को अमरीका के रूप में बड़ा बाज़ार दिख रहा है.

दोनों देशों के नेताओं की मुलाक़ात का एक संदेश बिलकुल साफ़ है- दोनों देशों के बीच भले ही मतभेद हों, लेकिन दोनों एक दूसरे के साथ व्यापार कर सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार