36 साल बाद ईरान की महिला राजदूत

मार्ज़ीह अफ़ख़ाम, ईरान इमेज कॉपीरइट AFP

ईरान 36 साल के बाद पहली बार किसी महिला को राजदूत नियुक्त करने जा रहा है.

वो महिला हैं विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मार्ज़ीह अफ़ख़ाम, जो ईरान में सबसे हाई-प्रोफ़ाईल महिला मानीजा रही हैं.

पहले, 1979 में हुई इस्लामिक क्रांति के बाद से ईरान की कोई महिला राजदूत नहीं रही है.

वह ईरान के इतिहास में दूसरी महिला राजदूत होंगी. इससे पहले 70 के दशक में मेहरान्गीज़ दौलतशाही ने डेनमार्क के राजदूत के रूप में काम किया था.

देश स्पष्ट नहीं

इमेज कॉपीरइट TASNIM
Image caption राष्ट्रपति हसन रोहानी ने महिलाओं को ज़्यादा अधिकार देने का वायदा किया था.

राष्ट्रपति हसन रोहानी ने 2013 के चुनाव प्रचार के दौरान महिला अधिकारों को मजबूत करने का वायदा किया था.

उनसे पहले राष्ट्रपति महमूद अहमदीनेजाद ने मारज़ियाह वाहिद दास्तजेर्दी को देश की पहली महिला मंत्री बनाया था.

ईरानी समाचार एजेंसियों के अऩुसार अभी यह साफ़ नहीं कि अफ़ख़ाम की नियुक्ति कहां होगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार