ईरान को मिसाइल प्रणाली देने पर अमरीका ख़फ़ा

इमेज कॉपीरइट Reuters

अमरीका ने ईरान को मिसाइल-रोधी प्रणाली देने पर लगा प्रतिबंध हटाने के रूस के फैसले पर आपत्ति जताई है.

अमरीकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने रूसी विदेश मंत्री सरगेई लावरोफ़ को फोन कर आपत्ति जताई है.

लेकिन रूसी विदेश मंत्री ने कहा कि रूस की तरफ़ से ईरान पर 2010 में लगाई गई एकतरफ़ा रोक की अब कोई ज़रूरत नहीं बची है.

इमेज कॉपीरइट AP

इस सिलसिले में उन्होंने ईरान के विवादास्पद परमाणु कार्यक्रम पर समझौते की रूपरेखा पर पिछले महीने हुई सहमति का ज़िक्र किया.

अमरीका का कहना है कि ये रोक संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों के तहत लगाई गई थी और जून में ईरानी परमाणु मुद्दे पर अंतिम समझौता होने तक इस रोक को नहीं हटाया जाना चाहिए.

उधर ईरानी रक्षा मंत्री हुसैन देहग़ान ने कहना है कि रूस के फैसले से क्षेत्र में स्थिरता और सुरक्षा क़ायम करने में मदद मिलेगी.

इमेज कॉपीरइट AP

लेकिन इसराइल ने इस कदम की कड़ी आलोचना की है. संवाददाताओं का कहना है कि इसराइल को डर है कि इस मिसाइल रोधी प्रणाली के कारण भविष्य में ईरानी परमाणु प्रतिष्ठान पर हवाई कार्रवाई करना मुश्किल होगा.

वैसे प्रतिबंध जारी रहने के दौरान भी रूस और ईरान नजदीकी सहयोगी रहे थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार