प्रवासियों में 'धार्मिक झड़प', 12 मारे गए

इटली की पुलिस का कहना है कि उन्होंने 15 मुस्लिम प्रवासियों को गिरफ़्तार किया है. इन लोगों पर आरोप है कि उन्होंने 12 ईसाइयों को चलती नौका से पानी में फेंक दिया.

ये नौका इटली की ओर जा रही थी.

माना जा रहा है कि ईसाई प्रवासी घाना और नाइजीरिया के थे और आशंका जताई जा रही है कि उनकी मौत हो गई है.

गिरफ़्तार किए गए 15 मुस्लिम प्रवासियों को सिसली के पालेर्मो शहर में गिरफ़्तार किया गया. इन लोगों पर धार्मिक घृणा से प्रेरित होकर कई लोगों की हत्या का आरोप लगाया गया है.

इमेज कॉपीरइट AFP Guardia Costiera

गिरफ़्तार किए गए संदिग्ध आइवरी कोस्ट, सेनेगल, माली और गिनी के उन 105 प्रवासियों में शामिल थे, जो मंगलवार को लीबिया से एक बोट में सवार हुए थे.

इस बीच एक अन्य घटना में लीबिया और इटली के बीच प्रवासी लोगों को लेकर आ रहे एक जहाज़ के डूबने से 40 से ज़्यादा लोगों की मौत हो गई है.

हाल के दिनों में भूमध्यसागर पार करने की कोशिश कर रहे क़रीब 10 हज़ार प्रवासियों को बचाया गया है. इटली ने इस संकट से निपटने के लिए यूरोपीय संघ से और मदद मांगी है.

इस साल अभी तक अफ़्रीका और मध्य पूर्व के 500 से ज़्यादा प्रवासी यूरोप आने की कोशिश में मारे गए हैं. इस सप्ताह के शुरू में एक जहाज़ के डूबने से 400 लोगों के मारे जाने की आशंका जताई जा रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)