भूमध्यसागर में और चौकस हुआ यूरोप

शरणार्थी इमेज कॉपीरइट Getty

यूरोपीय संघ ने भूमध्यसागर में अप्रवासियों की बोट हादसों में हो रही मौत की समस्या सुलझाने के लिए नए कदमों का एलान किया है.

यूरोपीय संघ की ट्रिटॉन गश्ती सेवा को मज़बूत किया जाएगा और मानव तस्करों की बोट को खत्म करने के लिए सैन्य अधिकारों की मांग रखी गई है.

सोमवार को लग्ज़मबर्ग में यूरोपीय संघ के मंत्रियों की बैठक में यूरोपीय संघ के नेताओँ की गुरुवार को एक आपात बैठक भी बुलाई गई है.

बैठक के दौरान ही अप्रवासियों के बोट से नए आपात संकेत मिले.

लीबिया का सवाल

इमेज कॉपीरइट European Photopress Agency

यूरोपीय संघ की विदेश नीति प्रमुख फेडरिका मोघेरिनी ने कहा है कि लग्ज़मबर्ग में चर्चा के बाद 10 सूत्री कार्यक्रम तय किया गया है.

मोघेरिनी के मुताबिक ये उपाय, ''हादसों पर यूरोपीय संघ की तरफ से कड़ी प्रतिक्रिया है जो इसकी बढ़ी अहमियत और राजनीतिक इच्छा को दिखाता है. हम मानव तस्करी से जंग में यूरोपीय एकजुटता की भावना वास्तव में विकसित कर रहे हैं.’’

इन उपायों में यूरोपीय संघ के लिए भूमध्यसागर में बचाव अभियान ट्रिटॉन चलाने वाली एजेंसी के आर्थिक संसाधनों में इजाफा भी शामिल है. ट्रिटॉन की कार्रवाई के क्षेत्र को बढ़ाया जा रहा है.

इसके अलावा शरण के लिए दिए गए आवेदन पत्रों को दो महीने के भीतर को संयुक्त रूप से जांचा परखा जाएगा.

सभी अप्रवासियों की उंगलियों के निशान दर्ज किए जाएंगे.

यूरोपीय संघ अप्रवासियों के पुनर्वास के लिए नई योजना ला रही है, यह पूरी तरह से स्वैच्छिक होगी.

वापसी की यात्रा का प्रस्ताव और प्रमुख देशों में अप्रवासन के लिए संपर्क अधिकारी की नियुक्ति करने की भी बात कही गई है.

तस्करों की बोट पर सैन्य कार्रवाई के लिए प्रस्ताव को यूरोपीय संघ आयोग से पारित कराना होगा.

मोघेरिनी ने लीबिया पर कार्रवाई के लिए ज़ोर दिया और कहा, ’’वहां सीमाओं पर नियंत्रण के लिए कोई सरकारी एजेंसी नहीं है.’’

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption भूमध्यसागर में पिछले कुछ दिनों में अप्रवासियों की कई नावें डूब चुकी हैं.

इसी बीच अप्रवासियों की नावों से नए आपात संकेत मिले हैं.

इटली और माल्टा का कहना है कि वे कम से कम दो नावों को बचाने में लगे हैं. इनमें सैंकड़ों लोग सवार हैं.

यूरोपीय संघ ने पिछले साल अपने बचाव अभियान को सीमित कर दिया था लेकिन अब उस पर दबाव बढ़ गया है.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption भूमध्यसागर में नाव हादसों में सैंकड़ों अप्रवासियों की मौत हो चुकी है. यूरोपीय संघ इसे लेकर चिंतित है.

गुरुवार को संघ के नेताओं का एक विशेष सम्मेलन होगा. रविवार को हुए एक नाव हादसे में सैंकड़ों लोगों के मारे जाने की आशंका है.

इतालवी प्रधानमंत्री के मुताबिक लीबियाई तट पर फँसी एक छोटी नाव में 100-150 लोग हैं जबकि दूसरी नाव में 300 लोग फँसे हैं.

अप्रवासियों की अंतरराष्ट्रीय संस्था आईओएम ने कहा है कि उसे भूमध्यसागर में डूब रही नाव से आपात संदेश मिला है. इसमें तीन सौ अप्रवासी सवार हैं.

फ़ोन करने वाले ने बताया कि कम से कम तीन नावें फँसी हैं और बीस लोगों की मौत हो चुकी है.

इससे पहले ग्रीस के तटरक्षक दल ने बताया था कि दर्जनों अप्रवासियों को लिए एक नाव रोड्स टापू के तट से टकरा गई थी. इस हादसे में तीन की मौत हो गई जबकि 80 को बचा लिया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार