'बहुत ही डरावना मंजर था, धरती घूम रही थी'

इमेज कॉपीरइट AP

नेपाल ने शनिवार को आए भूकंप ने भारी तबाही मचाई है. कई इमारतें नष्ट हो गई हैं और सौ से ज़्यादा लोगों की मौत हो गई है. सैकड़ों लोग घायल हो गए हैं.

समाचार एजेंसी एपी के मुताबिक कई घायलों को राजधानी काठमांडू के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है.

काठमांडू में एक व्यक्ति पुष्प दास ने एपी को बताया कि उसे जैसे ही भूकंप का झटका महसूस हुआ वो घर से बाहर निकल आई लेकिन इस दौरान उसके घर की एक दीवार ढह गई.

इमेज कॉपीरइट Reuters

उनका कहना था, “बहुत ही डरावना मंजर था. धरती घूम रही थी. मैं अस्पताल में इलाज के लिए इंतज़ार कर रहा हूं लेकिन यहां बहुत भीड़ है और डॉक्टर कम हैं.”

एपी के मुताबिक जब पुष्प दास ये बातें बता रहे थे उसी दौरान कई और लोग अपनी चोटें दिखा रहे थे जो कि उन्हें भूकंप के बाद इमारतों के ढहने के चलते आई थीं.

ऐतिहासिक इमारतें ध्वस्त

काठमांडू के निवासी प्रचंड सुआल बताते हैं कि जैसे ही ज़मीन हिलने लगी, राजधानी में तमाम इमारतें ढह गईं. इनमें सदियों पुराने कई मंदिर और दूसरी इमारतें भी शामिल हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

सुआल का कहना था कि उन्होंने सड़क पर एक व्यक्ति को दौड़ते हुए देखा जो कि बहुत घबराया हुआ था.

रॉबिन ट्रिग एक पर्वतारोही हैं और जब भूकंप आया तो वो क़रीब 5600 मीटर की ऊँचाई पर थे.

उन्होंने बताया, “हम लोग एक टेंट में बैठे हुए थे और चाय पी रहे थे तभी अचानक धरती हिलने लगी. हम समझ नहीं पाए कि क्या हो रहा है.”

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार