'लड़कियांं' बन मर्दों को ठग रहे हैं मर्द

इंटरनेट फ्रॉड इमेज कॉपीरइट BBC World Service

इंटरनेट पर एक ख़ूबसूरत लड़की आपको हैलो बोलती है. आप भी उससे दोस्ती बढ़ाना चाहते हैं.

धीरे-धीरे ये दोस्ती बढ़ जाती है और बात प्यार, मोहब्बत पर आ जाती है.

जब आप उसकी मोहब्बत में पूरी तरह ग़िरफ़्तार हो जाते हैं तब वो लड़की अपनी ख़राब आर्थिक हालत का हवाला देकर आपसे पैसे माँगती है.

आप उसके बताए अकाउंट में पैसे ट्रांसफ़र कर देते हैं. बस. उसके बाद वो लड़की आपसे हमेशा के लिए संपर्क तोड़ लेती है.

इंटरनेट पर धोखाधड़ी

इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

घाना में इस तरह से इंटरनेट पर धोखाधड़ी करने का चलन ज़ोरों पर है और कई युवा 'लड़की बन' इस तरीके से ख़ासे रईस हो चुके हैं.

घाना में इस तरह से पैसे कमाकर अमीर बने युवाओं को सकावा बॉयज़ कहा जाता है.

डेविड (नाम परिवर्तित) 25 साल के हैं. वो दो साल से इंटरनेट पर इसी तरह से लोगों को ठग कर पैसे कमा रहे हैं.

वो कहते हैं, "मुझे पता है कि ये ग़लत है लेकिन इससे मुझे ख़ासा पैसा मिलता है."

डेविड के पास पहले पैसों की सख़्त कमी थी. वो सड़कों पर सोते थे. फिर उन्होंने देखा कि उनके दोस्त इसी तरह से ठगी करके भरपूर पैसे कमा रहे हैं.

तो उन्होंने भी ये काम सीख लिया और आज उनके पास किराए का एक महंगा फ़्लैट है, कार है और मौज मस्ती के लिए भरपूर पैसा.

गोरे मर्दों को टारगेट

इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

घाना के ये युवा इंटरनेट पर मूल रूप से यूरोप, अमरीका और एशिया के गोरे मर्दों को टारगेट करते हैं.

ये अपने आपको एक ख़ूबसूरत लड़की के तौर पर पेश करते हैं और फिर किसी लड़की की क्लिप नेट पर चला देते हैं.

जब सामने वाला पुरुष बात करने की ज़िद करता है तो ये स्पीकर या ख़राब माइक्रोफ़ोन का बहाना बना देते हैं.

डेविड दावा करते हैं कि लोगो को ठगने के इस काम में बड़ी मेहनत लगती है.

डेविड के मुताबिक़, "आपमें धैर्य होना चाहिए. साथ ही आपको स्मार्ट, तेज़ और परिस्थितियों के हिसाब से बात बदलने का माद्दा होना चाहिए."

घाना के ये सकावा बॉयज़ बड़े मशहूर हो रहे हैं.

इन्हें हर शनिवार रात घाना की राजधानी आक्रा के सैंटा मेरी उपनगर में देखा जा सकता है.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार