काबुल होटल हमला: बंदूक़धारी विदेशियों की तलाश में थे

इमेज कॉपीरइट Reuters

काबुल के होटल पर हुए हमले में मारे जाने वालों की संख्या 11 हो गई है.

मारे जाने वालों में चार भारतीय और एक अमरीकी नागरिक भी हैं.

इससे पहले भारतीय राजदूत अमर सिन्हा ने एक ट्विट संदेश में कहा था कि हताहतों में कुछ भारतीय भी हैं.

काबुल से बीबीसी के डेविड लॉयन ने कहा है कि हमला बुधवार के शाम के वक़्त हुआ और सुरक्षाबलों और बंदूक़धारियों के बीच अगले पांच घंटे तक लड़ाई जारी रही.

हालांकि आत्मघाती हमले का प्लान शायद सफल नहीं हो पाया.

लॉयन का कहना है कि मारे जाने वालों में दो हमलावर भी शामिल हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters

हमला उस वक़्त हुआ जब होटल में विदेशी मेहमान भरे पड़े थे. ये लोग एक मशहूर अफ़ग़ानी गायक का कार्यक्रम सुनने आए हुए थे.

काबुल में मौजूद अमरीकी राजदूत ने कहा है कि पार्क पैलेस होटल में हुए हमले में जो पांच लोग मारे गए हैं उनमें एक अमरीकी नागरिक भी शामिल थे.

इमेज कॉपीरइट Reuters

पुलिस का कहना है कि 55 लोगों को होटल से सुरक्षित निकाल लिया गया है और अब हालात क़ाबू में हैं.

फिलहाल हमले की ज़िम्मेदारी किसी समूह ने नहीं ली है.

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि पूर्व में हुई हिंसक घटनाओं के लिए अफ़ग़ानिस्तान पाकिस्तान को ज़िम्मेदार ठहराता रहा है. लेकिन हाल के दिनों में दोनों के बीच संबंघों में सुधार आया है और तालिबान से संधि समझौते की उम्मीद जताई जा रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार