लादेन के साथी को अमरीका में उम्रक़ैद

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

अल क़ायदा के नेता ओसामा बिन लादेन के एक पूर्व सहयोगी को अमरीका में उम्र क़ैद की सज़ा सुनाई गई है.

ख़ालिद अल फ़वाज़ को ये सज़ा 1998 में पूर्वी अफ्रीका में अमरीकी दूतावासों पर हुए हमलों में मामले सुनाई गई है जिनमें 224 लोग मारे गए थे.

उन्होंने 1998 में लंदन में गिरफ़्तार किया गया था और उसके बाद 14 बाद उन्हें अमरीका प्रत्यर्पित किया गया.

अल-फवाज़ ओसामा बिन लादेन के प्रवक्ता रहे हैं और वो लंदन में अल क़ायदा के मीडिया सलाहकार भी थे.

'पश्चिम तक पुल'

इस साल फरवरी में सउदी नागरिक फवाज़ को साज़िश रचने के चार आरोपों में दोषी क़रार दिया गया.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

वहीं फवाज़ के वकीलों का कहना है कि वो एक अमनपसंद राजनीतिक असंतुष्ट थे, न कि कोई 'हिंसक आतंकवादी'.

अभियोजकों का कहना है कि फवाज़ लंदन में अपने दफ़्तर से गतिविधियां चलाते थे और मीडिया संस्थानों को ओसामा बिन लादेन के फ़तवे और धार्मिक बयानों के बारे में जानकारी देते थे.

न्यूयॉर्क के सदर्न डिस्ट्रिक्ट में अमरीकी अटॉर्नी प्रीत भरारा के बयान में कहा गया है कि फवाज़ ओसामा बिन लादेन की बातों को 'पश्चिमी तक पहुंचाने का एक पुल थे'.

उन्होंने कहा, "फवाज़ ने हत्यारी व्यवस्था के साथ मिल कर साज़िश की जिसके नतीजे में आतंकवादी गतिविधियों में लोग मारे गए."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)