गिनीः कार में शव लेकर घूमने पर जेल

 इबोला इमेज कॉपीरइट EPA

पश्चिम अफ्रीकी देश गिनी में अपने परिजन के शव को टैक्सी में डाल घूमने के आरोप में छह लोगों को जेल भेजा गया है.

बताया जा रहा है कि इस व्यक्ति की मौत इबोला वायरस की वजह से हुई थी. इसे स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े दिशा-निर्देशों का उल्लंघन माना जा रहा है.

गिरफ्तार लोगों में यदि 21 दिनों तक इबोला वायरस के कोई लक्षण नहीं दिखे तो उन पर कार्रवाई शुरू की जाएगी.

गिनी इबोला वायरस से सबसे अधिक प्रभावित देशों में से है.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption एक साल पहले इबोला संक्रमण के फैलने की वजह से अब तक गिनी में करीब 2,500 लोग मारे गए हैं.

इबोला वायरस के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए सभी छह अभियुक्तों को अलग-अलग रखा गया है.

अधिकारियों के अनुसार टैक्सी में शव रखने से पहले किसी तरह की सावधानी नहीं बरती गई थी.

मृत व्यक्ति को टीशर्ट और जींस के साथ धूप का चश्मा भी पहनाया गया था और उसे तीन लोगों के बीच में बैठाया गया था.

एक साल पहले जब पश्चिमी अफ़्रीका में इबोला का संकट बढ़ना शुरू हुआ तब से अब तक गिनी में करीब 2,500 लोग मारे जा चुके हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार