ईरानः सरकार ने शुरू की डेटिंग वेबसाइट

डेटिॆग वेबसाइट प्रतीकात्मक फ़ोटो इमेज कॉपीरइट ThinkStock

ईरान में युवाओं के बीच तलाक़ की बढ़ती संख्या को देखते हुए ईरान सरकार ने एक इंटरनेट डेटिंग वेबसाइट लॉन्च की है.

ईरान में करीब 22 प्रतिशत शादियों का अंजाम तलाक़ होता है, जिसकी दर राजधानी तेहरान में और भी ज़्यादा है.

इनमें बड़ी संख्या 30 साल से कम उम्र के युवाओं की है. देश की आबादी का बड़ा हिस्सा इसी आयु वर्ग का है. और यही बात ईरानी अधिकारियों को परेशानी में डाल रही है.

खेल और युवा मामलों के उपमंत्री महमूद गोलराज़ी ने इस साल की शुरुआत में योजना का ऐलान करते हुए उम्मीद जताई थी कि इससे करीब '1 लाख शादियां' होंगी और इस तरह इससे 'युवाओं की शादी की समस्या हल हो जाएगी.'

'फ़ोटो देखना अशिष्टता?'

यह नई साइट है हमसान डॉट तेबयान डॉट नेट (hamsan.tebyan.net) जिसे ईरान के शीर्ष धार्मिक नेता के निरीक्षण में चलने वाला इस्लामिक डेवलपमेंट ऑर्गेनाइज़ेशन चलाता है जो इस्लामिक जीवनशैली को बढ़ावा देता है.

इमेज कॉपीरइट hamsan.tebyan.net

यह इस्लामिक जीवनशैली के पोर्टल तेबयान डॉट नेट का ही एक अंग है. हमसान डॉट तेबयान डॉट नेट को 100 लोगों की एक टीम मिलकर चलाती है. अभी यह सुविधा केवल तेहरान में ही है लेकिन जल्द ही इसे अन्य शहरों में ले जाने की योजना है.

इसमें यूज़र्स को आधारभूत जानकारी देने को कहा जाता है, जैसे लंबाई, वजन और साथ ही अभिभावकों का व्यवसाय और वैवाहिक स्थिति. शौक, संगीत की पसंद या पसंदीदा फ़िल्म जैसे सवाल इसमें नहीं है.

अन्य डेटिंग साइट्स की तरह इसमें दूसरे यूज़र्स का प्रोफ़ाइल या फ़ोटो नहीं देख जा सकता क्योंकि धार्मिक अधिकारी इसे अशिष्टता मानते हैं.

सिर्फ़ वेब एडमिनिस्ट्रेटर ही इसे देख सकते हैं और वही 'उपयुक्त' जोड़ों को मिलाने का काम करते हैं.

अब यह साइट अकेले युवाओं को लुभा पाती है या नहीं यह तो वक़्त ही बताएगा लेकिन इतना तो तय है कि इसने उत्सुकता जगा दी है.

'एकपक्षीय'

तेहरान के एक युवा कावेह ने बीबीसी फ़ारसी सेवा को बताया, "तेहरान में लोगों से मिलना आसान नहीं है और ऐसे लोगों के लिए यह अच्छा विकल्प है जो पारंपरिक परिवारों से हैं", हालांकि अन्य लोग इसके प्रति उत्सुक नज़र नहीं आए.

इमेज कॉपीरइट ThinkStock

अली भी तेहरान के हैं. वह कहते हैं कि वह इस साइट का फ़ायदा नहीं उठाएंगे क्योंकि उनके लिए "जोड़ीदार वेबसाइट चलाने वाले लोग ढूंढेंगे और मैं इस बात पर यकीन नहीं कर सकता कि वह सही फ़ैसला लेंगे."

वह कहते हैं, "दूसरी वेबसाइट्स लोगों की रुचि और अरुचि के आधार पर लोगों को मिलाती हैं लेकिन यह पूरी तरह एकपक्षीय है."

एक ऐसे देश, जहां इंटरनेट और सोशल मीडिया को सख़्ती के साथ नियंत्रित किया जाता है, में सरकार की ऑनलाइन डेटिंग की भीड़ में कूदना थोड़ा अजीब लगता है.

गोलराज़ी के अनुसार ईरान में चल रही 300 पश्चिमी ढंग की डेटिंग वेबसाइट्स के बीच नई स्वीकृत साइट यूज़र्स को खींचेगी.

'30 मिनट की शादी'

गोलराज़ी के अनुसार मौजूदा साइट्स में 'ग़ैरकानूनी और अनैतिक' सामग्री होती है. अधिकारियों को यह भी डर है कि ऐसी साइट्स शादी से पूर्व यौन संबंधों को बढ़ावा देती हैं जो ईरान के सख़्त शरिया कानून के तहत ग़ैरकानूनी हैं.

इसे कई बार कामचलाऊ शादियों के ज़रिए नियंत्रित किया जाता है. इन्हें सिघेह कहा जाता है,

दरअसल कुछ वेबसाइट्स तो इस दस्तूर का इस्तेमाल कानून से बचने के लिए करते हैं, ख़ासतौर पर उन लोगों के लिए जिनकी रुचि सिर्फ़ यौन संबंधों में होती है.

सिघेह के तहत 30 मिनट से लेकर 99 साल तक की अवधि के लिए शादी की जा सकती है.

इसके लिए किसी आधिकारिक दस्तावेज़ की ज़रूरत नहीं पड़ती. ज़रूरत पड़ती है तो सिर्फ़ मौलवी के आशीर्वाद की.

इमेज कॉपीरइट afp

यह एक ऐसी व्यवस्था है जो शादीशुदा आदमियों को एक दूसरी साथी रखने की इजाज़त देती है लेकिन शादीशुदा महिलाओं को नहीं.

ग़ैरक़ानूनी डेटिंग वेबसाइट्स को नियंत्रित करने की कोशिशें पहले भी की गईं और नाकाम रही हैं. कुछ साइट्स को बंद किया गया तो नई उभर आई.

कुछ ऐसी डेटिंग वेबसाइट भी हैं जिन्हें धार्मिक विद्वान चलाते हैं और उन्हें सरकार का समर्थन भी प्राप्त है.

सरकार और निजी डेटिंग साइट्स बढ़ने के बावजूद बहुत से ईरानी ऐसे हैं जो चाहते हैं जोड़ी बनाने के काम को असली दुनिया तक ले जाया जाए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार