बीजिंगः स्मोकिंग पर बैन कितना असरदार?

चीन स्मोकिंग इमेज कॉपीरइट Reuters

बीजिंग में सार्वजनिक जगहों पर सिगरेट पीने पर प्रतिबंध से चीन में मिलीजुली प्रतिक्रिया हो रही है.

सोशल नेटवर्क के कुछ यूज़र तो देश में तंबाकू के इस्तेमाल को घटाने की सरकारी कोशिशों की ईमानदारी पर ही सवाल उठा रहे हैं.

कुछ यूज़र्स ने ऐसे मामलों को भी रिपोर्ट किया, जिनमें स्मोकर्स इस नए प्रतिबंध को तोड़ते हुए दिखाई दिए.

चीनी अधिकारियों ने एक जून से इमारतों के भीतर सभी सार्वजनिक जगहों पर धूम्रपान पर प्रतिबंध लगा दिया है.

प्रतिबंध तोड़ने वाले पर भारी जुर्माना लगाए जाने का प्रावधान है

चीन में लगभग तीस करोड़ स्मोकर्स हैं. हांलाकि बीजिंग में पहले भी ऐसे प्रतिबंध लगाए गए हैं जो सफल नहीं हुए हैं.

प्रतिबंध का समर्थन

इमेज कॉपीरइट Getty

सोशल नेटवर्क यूज़र फान्यान रेन्यू झिलु ने बीजिंग के एक रेस्त्रां तस्वीर पोस्ट की है जिसमें ऐश ट्रेज़ को तोड़ा जा रहा है.

तस्वीर का शीर्षक है- "स्मोकिंग बैन करने के फैसले का मैं समर्थन करता हूं."

यूज़र लु गोंग्ज़ू एर ने भी लिखा है, "स्मोकिंग आपकी सेहत के लिए नुकसानदेह है. इसलिए बैन का पालन करना चाहिए."

आइची हुआशेंग दिमाइ ने लिखा है, "उम्मीद है बीजिंग का आसमान अब और नीला होगा और हवा ताज़ा!"

लेकिन हैशंग गांग्किन शिबोके इससे सहमत नहीं हैं, "मै अभी एक स्टोर में गया और वहां मुझे फर्श पर सिगरेट के टुकड़े दिखाई दिए. फिर मैंने स्टोर के अंदर ही एक शख्स को सिगरेट पीते हुए देखा. "

चेंग यांडाओ ने सिगरेट पाते हुए एक आदमी की तस्वीर पोस्ट की है और नीचे लिखा है- "क्या इसे आप सबसे सख्त स्मोकिंग बैन कहेंगे. मैंने तो इस शख्स को पार्क में सिगरेट पीते देखा. क्या आप इस बारे में कुछ करेंगे?"

सरकार की मंशा पर संदेह

इमेज कॉपीरइट Josephine Mcdermott

हे वाइफांग ने लिखा है कि बीजिंग एयरपोर्ट के स्मोकिंग कक्ष को बैन के तहत बंद कर दिया गया है.

लेकिन वाइफांग के मुताबिक, ये ज़्यादती है, "फ्लाइट्स में अक्सर देरी होती है, कई बार तो घंटों की देरी होती है.

इस कदम ने सिगरेट पाने वालों को दुविधा में नहीं डाल दिया? वो हताश होकर कोई अतिवादी कदम नहीं उठाएंगे?"

कुछ यूज़र्स ने सरकार की तंबाकू उद्योग का सामना करने की क्षमता पर भी सवाल उठाए हैं.

चीन का तंबाकू उद्योग पर ज़्यादातर सरकारी संस्था नेशनल टुबैको कोऑपरेशन का ही वर्चस्व है.

जिउ निज़ुइ तोब को इस पर संदेह है कि सरकार वाकई चीन में तंबाकू के प्रयोग पर काबू पाना चाहती है.

"अगर वो वाकई तंबाकू के इस्तेमाल पर काबू पाना चाहते हैं तो उन्हें सिगरेट बनाना बंद कर देना चाहिए."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार